आचार संहिता उल्लंघन को लेकर दो दिन में मिली 70 शिकायतें

इंदौर
चुनाव प्रचार में कोई अभद्र भाषा का उपयोग कर रहा है। कोई प्रत्याशी मतदाता पर्ची पर खुद का फोटो लगाकर बांट रहा है। कोई शासकीय भवनों और शासकीय संपत्ति पर अपने बैनर-पोस्टर लगा रहा है। नगर निगम चुनाव में खड़े हुए विभिन्ना प्रत्याशियों और राजनीतिक दलों के बारे में ऐसी शिकायतें जिला निर्वाचन कार्यालय को मिल रही हैं। दो दिन में ही ऐसी 70 शिकायतें अधिकारियों के पास पहुंच चुकी हैं।

जैसे-जैसे निगम चुनाव के मतदान की तारीख नजदीक आ रही है, शिकायतों की गति भी तेजी से बढ़ती जा रही है। शहर के उन वार्डों से अधिक शिकायतें आ रही हैं, जहां भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवारों में कड़ा मुकाबला है। जिला निर्वाचन कार्यालय के पास अब तक 135 शिकायतें पहुंची हैं। इन शिकायतों में शासकीय कर्मचारियों द्वारा राजनीतिक दलों और प्रत्याशियों के लिए काम और प्रचार करने की शिकायतें भी शामिल हैं।

कुछ जगह बूथ लेवल अधिकारियों बीएलओ की भी शिकायतें आई हैं कि उन्होंने मतदाताओं को पर्ची नहीं बांटी है। इनमें से कई शिकायतें जांच में झूठी पाई गईं तो कुछ शिकायतों में संबंधित प्रत्याशियों को नोटिस भी जारी किए गए हैं। पलासिया क्षेत्र में एक पुलिस अधिकारी की शिकायत मिली थी कि वे शराब बंटवा रहे हैं।

जांच में यह शिकायत झूठी पाई गई। चंदन नगर क्षेत्र में शराब बांटने की एक शिकायत सही मिलने पर एफआइआर भी दर्ज की गई है। जिला निर्वाचन कार्यालय में चुनाव से संबंधित शिकायतों के मामलों को देख रहे अपर कलेक्टर राजेश राठौर ने बताया कि जो भी शिकायतें आ रही हैं, उनके लिए प्रत्याशियों को नोटिस भेजकर जवाब भी लिए जा रहे हैं। जांच के लिए संबंधित विभाग के पास भेजकर रिपोर्ट बुलाई जा रही है। रिपोर्ट के आधार पर शिकायतों में कार्रवाई भी की जा रही है। उल्लेखनीय है कि शिकायतें लेने और इनका निराकरण करने के लिए कलेक्टर कार्यालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है।

Related Articles

Back to top button