भोपाल में 22 अप्रैल को होगा वन समितियों का विशाल सम्मेलन

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आगामी 22 अप्रैल को भोपाल के जंबूरी मैदान में वन समितियों के विशाल सम्मेलन और तेंदूपत्ता बोनस वितरण कार्यक्रम में प्रदेश के सभी जिलों के वनवासी बंधुओं की भागीदारी सुनिश्चित करें। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और अन्य अतिथियों के प्रस्तावित आगमन के अनुसार सम्मेलन की तैयारियाँ प्रारंभ कर दी गई हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में भोपाल में गत नवम्बर माह में प्रधानमंत्री मोदी की उपस्थिति में हुए जनजातीय गौरव दिवस के गरिमामय कार्यक्रम के बाद यह एक विशेष अवसर है, जब प्रदेश के जनजातीय वर्ग के प्रतिनिधि राजधानी पधारेंगे। सम्मेलन में जनजातीय और वन क्षेत्र की लोक संस्कृति से संबंधित सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ भी होंगी।

मुख्यमंत्री चौहान आज मंत्रालय में 22 अप्रैल को हो रहे वन समितियों के सम्मेलन और तेंदूपत्ता बोनस राशि वितरण के राज्य स्तरीय कार्यक्रम की तैयारियों की जानकारी ले रहे थे। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक सुधीर कुमार सक्सेना, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी, प्रमुख सचिव अनुसूचित जाति कल्याण, जनजातीय कार्य डॉ. पल्लवी जैन गोविल, प्रमुख सचिव जनसंपर्क राघवेन्द्र कुमार सिंह, ओएसडी मुख्यमंत्री कार्यालय योगेश चौधरी, पुलिस कमिश्नर भोपाल मकरंद देउस्कर, मुख्यमंत्री के सचिव एम. सेलवेन्द्रन, भोपाल कमिश्नर गुलशन बामरा और अन्य अधिकारी उपस्थित थे। प्रमुख सचिव वन अशोक वर्णवाल ने सम्मेलन के लिए की जा रही तैयारियों के विभिन्न पक्षों से अवगत करवाया।

 वन क्षेत्रों के विकास से रू-ब-रू करवाएगी चित्र प्रदर्शनी
मध्यप्रदेश सरकार द्वारा वनवासियों के कल्याण के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। विकास योजनाओं का लाभ भी वन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को मिला है। विकास कार्यों से इन इलाकों की तस्वीर बदली है और स्थानीय लोगों का जीवन अधिक आसान हुआ है। बैठक में बताया गया कि सम्मेलन स्थल पर एक चित्र प्रदर्शनी लगाई जाएगी, जो राज्य शासन द्वारा वन क्षेत्रों के विकास के साथ सामुदायिक वन प्रबंधन, लघु वनोपज संग्रहण और वन्य-प्राणी संरक्षण पर केंद्रित होगी। मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदर्शनी को आम जनता के लिए भी प्रदर्शित करने के निर्देश दिए।

सम्मेलन में होगा लाभांश राशि का वितरण, वेबकॉस्ट से प्रसारण भी
जम्बूरी मैदान में होने वाले सम्मेलन में प्रदेश के तेंदूपत्ता संग्राहकों को लाभांश वितरण किया जाएगा। बैठक में बताया गया कि तेंदूपत्ता लाभांश राशि चयनित पाँच हितग्राही प्राप्त करेंगे। तीन जिलों हरदा, छिंदवाड़ा, बैतूल की वन समितियों के अध्यक्ष प्रतीक स्वरूप मंच पर आमंत्रित किए जाएंगे। सम्मेलन का प्रसारण वेबकॉस्ट से 15 हजार 608 ग्रामों में किया जाएगा। वन विभाग द्वारा करीब 5 हजार गाँवों में प्रसारण व्यवस्था की गई है। पूरे प्रदेश में कार्यक्रम देखा और सुना जा सकेगा।

अनेक जिलों से भागीदारी करने आयेंगे प्रतिनिधि
सम्मेलन में प्रदेश के विभिन्न जिलों से भागीदारी होगी। आमंत्रित प्रतिनिधियों के लिए भोजन, पेयजल, रहवास आदि की व्यवस्थाओं के लिए आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। कार्यक्रम स्थल पर सुविधाजनक बैठक, सुरक्षा और परिवहन व्यवस्थाओं के संबंध में भी चर्चा हुई।

Related Articles

Back to top button