एडीजी तथा डीआईजी ने वाहन चालकों को दी समझाइश

रीवा
जिले भर में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। पुलिस द्वारा वाहनों की जांच करने के साथ-साथ दोपहिया वाहन सवारों को हेलमेट लगाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक केपी व्यंकटेश्वर राव, डीआईजी मिथिलेश शुक्ला तथा पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने छात्रों के साथ हेलमेट जागरूकता रैली में भाग लिया। सभी विद्यार्थियों को दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट लगाने की शपथ दिलाई गई। इसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने कलेक्ट्रेट कार्यालय के सामने वाहनों की जांच शुरू की। बिना हेलमेट दोपहिया वाहन चालकों को रोककर उन्हें हेलमेट के उपयोग करने की हिदायत दी।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री राव ने वाहन चालकों को समझाते हुए कहा कि अपने और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट का उपयोग करें। हेलमेट चालान से बचाने के लिए नहीं जान बचाने के लिए है। हेलमेट न लगाने की छोटी सी लापरवाही से कई वाहन चालक असमय मौत के शिकार हो गए। दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट लगाना अपनी आदत में शामिल करें। वाहनों की जांच के दौरान हेलमेट न लगाने वालों के चालान काटे गए। साथ ही उन्हें हेलमेट भी प्रदान किया गया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ने दोपहिया वाहन चलाने वाली महिलाओं को भी समझाइश देने के साथ हेलमेट प्रदान किए। कार्यवाही के समय यातायात प्रभारी दिलीप तिवारी, थाना प्रभारी हितेन्द्रनाथ शर्मा तथा अन्य पुलिस बल उनके साथ रहे।

Related Articles

Back to top button