कृषि मंत्री कमल पटेल खरगोन के दंगा ग्रस्त क्षेत्रों के दौरे पर पहुंचे

 

खरगोन। खरगोन जिले के प्रभारी मंत्री कमल पटेल आज यानी गुरूवार को अपने क्षेत्र के दौरे पर पहुंचे, जहां उन्होंने दंगा ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि यह रणनीति के तहत सोची समझी साजिश के तहत कार्य हुआ है. तंबू में देखा जाता है कि आमने सामने पथराव एवं आगजनी पर दोनों ओर से नुकसान होता है, लेकिन यहां पर देखा जा रहा है कि एक ही पक्ष का नुकसान हुआ है. इन दंगाइयों को शासन की रणनीति के तहत सजा दी जाएगी. दंगा पीड़ितों को शहर की सामाजिक संस्थाएं भोजन उपलब्ध करा रही हैं, दंगा प्रभावितों को सीएम द्वारा की गई घोषणाओं के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा.

आतंकी घटना के समान है घटना
 मंत्री कमल पटेल ने कहा कि इस तरह की घटनाएं कश्मीर में होती थी, दंगाई आकाश में छुप जाए पाताल में धंस जाए फिर भी उन्हें ढूंढ कर जेल भेजा जाएगा, उन्हे छोड़ा नहीं जाएगा. उसके साथ ही उन्होंने कहा कि शहर में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज और वायरल वीडियो के आधार पर कार्रवाई की जा रही है.

दंगाईयो का कोई धर्म नहीं, दंगाई दंगाई है
मंत्री कमल पटेल ने कहा कि खरगोन की विभत्स स्थिति है. दंगाई दंगाई है, इनका कोई धर्म नहीं है. उन्होंने कहा कि यहां के लोगों ने बताया की तीन-चार बार इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं, पहले सख्त कार्रवाई हो गई होती तो ऐसी स्थिति नहीं होती. कमल पटेल ने कहा कि हमारी सरकार दंगाइयों पर ऐसी कार्रवाई करेगी कि आगे दंगाई दंगा करना भूल जाएंगे.

बिटिया की शादी के लिए दी जाएगी मदद
खरगोन में दंगा ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने पहुंचे कृषि मंत्री कमल पटेल ने दंगे में एक बिटिया की शादी के एकत्रित किए सामान के लूट-पाट किए जाने की बात कहने पर बिटिया को आश्वत कराते हुए कहा की बिटिया की शादी में कमी नहीं रहने दी जाएगी.

 

Related Articles

Back to top button