बेस्ट परफार्मेंस सम्मान : नर्मदापुरम-राघोगढ़ पहले, मंदसौर-शाजापुर दूसरे स्थान पर रहे

Best Performance Award : राज्य सरकार शहरी क्षेत्रों की स्वच्छता के लिए अच्छा काम करने वाले और राजस्व वसूली के जरिये आमदनी बढ़ाने का काम करने वाले 16 नगरीय निकायों को सम्मान देने का निर्णय लिया है।

Best Performance Award : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. राज्य सरकार शहरी क्षेत्रों की स्वच्छता के लिए अच्छा काम करने वाले और राजस्व वसूली के जरिये आमदनी बढ़ाने का काम करने वाले 16 नगरीय निकायों को सम्मान देने का निर्णय लिया है। नगरीय विकास और आवास विभाग ने इसके लिए सभी संबंधित निकायों को 19 दिसम्बर को होने वाले नगरीय निकायों के नव निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के प्रशिक्षण सह सम्मेलन में सम्मानित किया जाएगा।

इस कार्यक्रम में सभी महापौर, नगरपालिका व नगर परिषद अध्यक्ष, आयुक्त नगर निगम मौजूद रहेंगे। नगरीय विकास और आवास विभाग द्वारा जारी निर्देशों में कहा गया है कि वर्ष 2021-22 में जिन नगरीय निकायों ने राजस्व वसूली में अच्छा काम किया है और चालू साल में जिन निकायों ने स्वच्छता के मामले में राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है, उन निकायों का सम्मान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में होने वाले कार्यक्रम में किया जाएगा।

सम्मान के लिए अधिकारी आमंत्रित

आयुक्त नगर निगम इंदौर, भोपाल, उज्जैन और छिंदवाड़ा के अलावा सीएमओ नगरपालिका व नगर परिषद मुंगावली, खुरई, ओबेदुल्लागंज, फूफकला, पेटलावद, बड़ौनी, खजुराहो, नर्मदापुरम, मंदसौर, विदिशा, राघौगढ़, शाजापुर, मैहर, महूगांव, राऊ, धामनोद, श्यामगढ़, मनासा, उचेहरा, बड़कुही, बिरसिंहपुर, बड़ामलहरा और मुख्य कार्यपालन अधिकारी महूकैंट को सम्मान लेने के लिए बुलाया गया है।

30 लाख रुपए तक का मिलेगा प्रोत्साहन अनुदान

सरकार ने अच्छा काम करने वाले निकायों को प्रोत्साहन अनुदान देने का भी फैसला किया है। इसमें राजस्व वसूली के लिए उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले निकायों में नपा नर्मदापुरम को पहले पुरस्कार के रूप में तीस लाख रुपए, मंदसौर को 20 लाख और विदिशा को 15 लाख रुपए मिलेंगे।

इसी तरह एक लाख से कम जनसंख्या वाले नगर पालिकाओं में राघोगढ़ को 30 लाख, शाजापुर को 20 लाख और मैहर को 15 लाख रुपए मिलेंगे। 25 हजार से अधिक जनसंख्या वाले नगरीय निकायों में महूगांव को 15.50 लाख, राऊ को 10 लाख तथा धामनोद, श्यामगढ़ और मनासा को 5-5 लाख रुपए का प्रोत्साहन अनुदान मिलेगा। 25 हजार से कम जनसंख्या वाले शहरों में उचेहरा को 15.50 लाख, बड़कुही को 10 लाख तथा बिरसिंहपुर, खजुराहो और बड़ामलहरा को 5-5 लाख रुपए दिए जाएंगे।

Related Articles

Back to top button