Bhopal News : पूरे भारत में लगाए जायेंगे चार लाख वृक्ष – श्रीमती पूर्वी जैन

Bhopal News : राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ मनोरमा जैन ने बताया कि यह संस्था साहित्य के माध्यम से समाज व देशसेवा के लिए कार्य करेगी संस्था द्वारा 8 उद्देश्य निर्धारित किये गए हैं जिसका तीसरा उद्देश्य भारत को प्रदूषणमुक्त करने के लिए जन जागृति अभियान चलाना और वृक्षारोपण करना है।

Latest Bhopal News : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. अखिल भारतीय पुस्तक लेखक संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की बैठक भोपाल में आयोजित हुई, जिसमें राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्यों के अतिरिक्त राष्ट्रीय सामान्य समिति के 22सदस्यों व मंत्रिमण्डल के सभी पदाधिकारीगणो की गरिमामयी उपस्थिति पूरे समय तक रही।

कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ मनोरमा जैन ने की । उन्होंने अपने उदबोधन में बताया कि यह संस्था साहित्य के माध्यम से समाज व देशसेवा के लिए कार्य करेगी इसके लिए संस्था द्वारा 8 उद्देश्य निर्धारित किये गए हैं जिसका तीसरा उद्देश्य भारत को प्रदूषणमुक्त करने के लिए जन जागृति अभियान चलाना और वृक्षारोपण करना है।

बैठक में पहला निर्णय लिया गया कि संस्था द्वारा अपनी जिला इकाइयों के माध्यम से भारत के प्रत्येक नगर मे प्रदेशाध्यक्षों की सहायता से चार लाख वृक्ष लगाने का लक्ष्य 30 नवंबर तक पूर्ण किया जायेगा ।

संस्था की राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती पूर्वी जैन ने जानकारी देते हुए कहा कि इस संस्था के संस्थापक सदस्यों ने पूर्व में अखिल भारतीय पर्यावरण प्रदूषण एवं नशामुक्ति अभियान नामक संस्था के रूप में भारत के अनेक नगरों में 2014 से 2022 तक पर्यावरण की रक्षा के लिए निरंतर कार्य किया है।

चूंकि साहित्यकारों द्वारा साहित्य के माध्यम यह कार्य भारत के प्रत्येक नगर में अधिक प्रभावी ढँग से किया जा सकता है इसीलिए भारत के प्रत्येक नगर के साहित्यकारों को जोड़ना आवश्यक हो गया। बैठक में सर्व सम्मति से दूसरा निर्णय लिया गया कि आज से यह संस्था अखिल भारतीय लेखक संघ के नाम से जानी जाएगी।

बैठक में तीसरा निर्णय लिया गया कि डॉ पूजा क्षेत्रपाल इंदौर ने इस संस्था के साथ मिलकर पर्यावरण की रक्षा के लिए सराहनीय कार्य किया है इसलिए उन्हें सम्मानित किया जाए।

और अंत में अपने आभार उदबोधन में राष्ट्रीय महासचिव ने सभी प्रदेशाध्यक्षों से आग्रह किया कि वे इस राष्ट्रीय महत्व के कार्य में जिलाध्यक्षों का मार्ग दर्शन करें, उनका हौसला बढ़ाएँ ताकि समाज और देश के विकास में संस्था उल्लेखनीय योगदान दे सके।

Related Articles

Back to top button