जमीन अधिग्रहण बन रहा Bhopal Metro के लिए बड़ी बाधा

Land acquisition News : शहर में Bhopal Metro का पहले चरण का कार्य तेज गति से चल रहा है। लेकिन आने वाले समय में जब पुराने शहर में काम शुरू होगा तो तमाम परेशानियां आने वाली हैं। सबसे ज्यादा दिक्कत अतिक्रमण को लेकर है। दूसरे चरण से इस कार्य में लगभग 300 बाधाएं आ रही हैं। सबसे ज्यादा परेशान सिंधी कॉलोनी और डीआईजी बंगले के बीच आएगी। मेट्रो के अधिकारी शीघ्र ही इसके लिए दौरे करेंगे।

Land acquisition News in Bhopal Metro : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. सुभाष नगर से करोंद के बीच मेट्रो लाइन के दूसरे चरण का काम जनवरी 2023 से शुरू होगा। लेकिन इसके पहले भोपाल टॉकीज से करोंद के बीच मेट्रो लाइन में आ रही 300 से अधिक बाधाओं को समाप्त करना होगा। बता दें कि भोपाल टाकीज से काजी कैंप तक संकरी गलियां और अतिक्र मण है। इसको लेकर जल्द ही एमपी मेट्रो रेल कार्पोरेशन लिमिटेड के अधिकारी, जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ पूरे रूट का निरीक्षण करेंगे।

बताया जा रहा है कि भोपाल टॉकीज से करोंद के बीच मेट्रो रूट के बीच में 300 से भी ज्यादा बाधाएं हैं, जिन्हें निर्माण से पहले हटाया जाना है कि हालांकि परियोजना के अधिकारियों की मानें तो उनके पास काम करने के लिए पर्याप्त क्षेत्र है। ऐसे में निर्माण कार्य के दौरान किसी भी तरह की समस्याएं नहीं आना चाहिए। बताया जा रहा है कि सबसे ज्यादा दिक्कत सिंधी कालोनी चौराहे से डीआईजी बंगले के बीच आएगी। इसी रूट में 95 फीसदी से ज्यादा बाधाएं हैं, जिन्हें निर्माण के दौरान हटाया जाएगा।

अधिकारियों की मानें तो बड़ा बाग से करोंद तक मेट्रो की लाइन सड़क के बीच में रहेगी। इसलिए काम के दौरान ज्यादा परेशानी नहीं आनी चाहिए। वहीं सड़क के दोनों ओर बने निर्माणों को तोड़ने के लिए बड़े पैमाने पर जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। माना जा रहा है कि मुख्य रूप से ऐसे 300 निर्माण हैं, जिन्हें तोड़ा जा सकता है।

सुभाष नगर से करोंद के बीच होंगे 6 स्टेशन

इस रूट पर 6 स्टेशन होंगे, जिसमें से दो अंडरग्राउंड होंगे। सुभाष नगर के बाद पहला स्टेशन पुल बोगदा होगा। यहां करोंद से आने वाली लाइन और सुभाष नगर से आने वाली लाइन मिलेगी। पुल बोगदा के बाद मेट्रो अंडरग्राउंड हो जाएगी। इसके बाद दूसरा स्टेशन भोपाल रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म नंबर 6 के पास अल्पना तिराहे के नजदीक होगा। अगला स्टेशन भोपाल टॉकीज और सिंधी कॉलोनी के बीच बड़ा बाग हो सकता है। सिंधी कॉलोनी से मेट्रो जमीन के बाहर आ जाएगी। इसके बाद डीआईजी बंगला, कृषि उपज मंडी और करोंद पर भी मेट्रो स्टेशन रहेंगे।

Related Articles

Back to top button