Latest Bhopal Crime News : बी. फार्मा के छात्र ने की खुदकुशी

Bhopal Crime News : अशोका गार्डन थाना क्षेत्र स्थित न्यू अशोका गार्डन में गुरुवार रात बी फार्मा के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसके पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है।

Bhopal Crime News : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. अशोका गार्डन थाना क्षेत्र स्थित न्यू अशोका गार्डन में गुरुवार रात बी फार्मा के छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसके पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उसने अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात लिखी है। सुसाइड नोट की जांच में आत्महत्या की वजह सामने नहीं आ सकी है। पुलिस ने छात्र का शव पीएम के लिए भेज दिया है। मृतक के परिजनों की मौजूदगी में शव का पोस्मार्टम हमीदिया स्थित मचुर्री में कराया जा रहा है। मृतक के पिता मायनिंग आॅफिसर तो मां एजुशकेशन डिपार्टमेंट में नौकरी करती हैं।

एएसआई संजय मिश्रा ने बताया कि अनुराग नाग पिता दीपक नाग (24) बैहर, तहसील परतवाड़ा, बालाघाट का रहने वाला था। अनुराग यहां ए-944 न्यू अशोका गार्डन में किराए के कमरे में रह रहा था और प्राइवेट कालेज में बी फ ार्मा (लेब टेक्नीश्यिन)की पढ़ाई कर रहा था।

गुरुवार दोपहर से उसके परिजन उसे कॉल कर रहे थे, लेकिन वह कॉल रीसिव नहीं कर रहा था। परिजन ने भोपाल में रहने वाले अनुराग के दोस्तों को घटना की जानकारी दी और रूम जाकर अनुराग से बात कराने की बात कही। अनुराग का दोस्त मयूर विहार अशोका गार्डन में रहता है। वह अनुराग के कमरे पर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था। काफ ी आवाज देने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला तो दोस्त तेजपुंज ने मकान मालिक को घटना की जानकारी दी। इसके बाद कमरे का दरवाजा तोड़ा गया।

Also READ

दरवाजा तोड?े पर पता चला कि अनुराग ने बेडशीट का फं दा बनाकर पंखे पर फांसी लगा ली है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अनुराग का शव पीएम के लिए भेज दिया। पुलिस ने घटनास्थल से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है, जिसमें उसने अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात लिखी है। इसी के साथ उसने किसी को परेशान न करने की बात भी सुसाइड नोट में पुलिस के लिए लिखी है।

यह बोला भाई

मृतक के भाई विक्की ने बताया कि उनके पिता बालाघाट में मायनिंग डिपार्टमेंट में पदस्थ हैं। जबकि मां एजुकेशन डिपार्टमेंट की कर्मचारी हैं। विक्की बालाघाट में ही रहते हैं। उनका कहना है कि अनुराग से सपंर्क नहीं हो पा रहा था। कल सुबह अनुराग के दोस्त रवि से संपर्क कर भाई से बात कराने की बात कही थी। वह उसके कमरे में बात कराने पहुंचा।

अनुराग ने कहा कि मैं बाद में बात कर लूंगा स्वयं कॉल करके। इसके बाद उसका कॉल नहीं आया। उसने फोन भी नहीं उठाया। तब दूसरे दोस्त को कॉल कर कमरे पर चेक करने भेजा गया। जहां से उसकी मौत की खबर मिली। भाई ने किसी प्रकार की परेशानी का जिक्र नहीं किया। पुलिस को उसके कमरे से कुछ दवाईयां मिली हैं। वहीं पुलिस का अनुमान है कि अकेलेपन के कारण छात्र द्वारा डिप्रेशन में आकर जान दी गई है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group