MP News : टाइपिंग पास किए बगैर 37 लिपिकों को मिली वेतनवृद्धि, ऑडिट ने जताई आपत्ति

Latest MP News : जलसंसाधन विभाग ने अपने 37 लिपिकों को बिना हिंदी टाईपिंग परीक्षा पास किए न केवल नियुक्ति दे दी बल्कि उन्हें वेतनवृद्धि भी दे दी। अब आडिट आपत्ति आने के बाद इसके लिए वित्त विभाग से मंजूरी ली जा रही है।

Latest MP News : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. जलसंसाधन विभाग ने अपने 37 लिपिकों को बिना हिंदी टाईपिंग परीक्षा पास किए न केवल नियुक्ति दे दी बल्कि उन्हें वेतनवृद्धि भी दे दी। अब आडिट आपत्ति आने के बाद इसके लिए वित्त विभाग से मंजूरी ली जा रही है।

जानकारी के अनुसार जलसंसाधन विभाग में सहायक ग्रेड तीन (निम्न श्रेणी लिपिक) के पद पर नियुक्त 37 कर्मचारी ऐसे है जिन्हें एक वर्ष में टाईपिंग परीक्षा उत्तीर्ण करने की शर्त पर नियुक्ति प्रदान की गई थी लेकिन इन्होंने शासन के आदेश के पालन में टाईपिंग परीक्षा उत्तीर्ण नहीं की। इस पूरे मामले में कर्मचारियों के न्यायालय में अपील किए जाने के दौरान न्यायालय के समक्ष सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से विधिक प्रतिवाद प्रस्तुत नहीं हो पाने के कारण न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय के पालन में प्रमुख अभियंता के अधीनस्थ कार्यालय प्रमुखों द्वारा संबंधितों को वेतन वृद्धियों का लाभ दिया गया ।

अब नियम विरुद्ध मिली वेतनवृद्धि के बाद जब सेवानिवृत्ति और अन्य मामलों की छानबीन हुई तो संचालक कोष और लेखा ने इस पर आपत्ति दर्ज कराई है। इस आपत्ति के निराकरण के लिए असक्षम स्तर से जारी वेतनवृद्धि आदेशों की कार्येत्तर स्वीकृति मांगी गई है।

न्यायालय का निर्णय शासन के विरुद्ध होता है तो अपील की जाना थी एवं न्यायालय निर्णय का पालन किया जाना था, उस स्थिति में भी प्रकरण में वित्त विभाग की सहमति से विभाग से टंकण परीक्षा पास करने की छूट एवं वेतन वृÞिद्ध देने के आदेश जारी किए जाने थे। न्यायालयीन प्रकरणों के संदर्भ में शासन के समक्ष प्रकरण प्रस्तुत न होंने से वादीगणों को अनुचित लाभ प्राप्त हुआ है और शासन को आर्थिक हानि हुई है। इस मामले में अब सारे प्रकरण वित्त विभाग से छूट के लिए भेजे जा रहे है।

इस तरह मिलेगी छूट

जलसंसाधन विभाग में सहायक वर्ग तीन के पद पर नियुक्त किए गए सहायक वर्ग तीन को अब बिना हिंदी टाईपिंग परीक्षा उत्तीर्ण किए नियुक्ति दिनांक से एक वर्ष बाद वार्षिक वेतन वृद्धि स्वीकृत की जाएगी। इसके लिए वित्त विभाग से स्वीकृति के बाद आदेश जारी किए जाएंगे।

जलसंसाधन विभाग के अधीक्षण यंत्री ने सभी मुख्य अभियंताओं को इस संबंध में निर्देश जारी किए है। ऐसे सभी सहायक वर्ग दो एवं सहायक वर्ग तीन जिन्होंने बिना हिंदी टाईपिंग परीक्षा पास किए नियुक्ति दिनांक से एक वर्ष बाद वार्षिक वेतन वृद्धि प्रदान किए जाने हेतु प्रस्तुत किए थे। उन सभी प्रकरणों में वित्त विभाग से कार्येत्तर स्वीकृति प्राप्त किए जाने हेतु ऐसे समस्त प्रकरणों की एकजाई सूची प्रमुख अभियंता कार्यालय को भेजी जाए। सभी प्रकरणों पर वित्त विभाग से प्राप्त की जा सके।

Related Articles

Back to top button