पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघ ने लगा ली फांसी, जांच कर रहा वन विभाग

मध्यप्रदेश के छतरपुर में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. पन्ना टाइगर रिजर्व से सटे छतरपुर जिले की विक्रमपुर नर्सरी के पास एक वयस्क बाघ लोहे के मजबूर तार पर झूलता मिला है.

Panna Tiger Reserve: उज्जवल प्रदेश, पन्ना. पन्ना टाइगर रिजर्व (Panna Tiger Reserve) में एक बाघ का शव फंदे से लटका मिला. बाघ का शव क्लज वायर से लटका हुआ था. जैसे ही टाइगर रिजर्व के कर्मचारियों ने बाघ के शव को देखा तुरंत इसकी सूचना अधिकारियों को दी. पन्ना टाइगर रिजर्व के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं.

बाघ के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा. गश्ती टीम को बाघ का शव उत्तर वन मंडल के अंतर्गत विक्रमपुर बीट के पास मिला है. इस घटना से इलाके में सनसनी फैल गई है. न्यूज के मुताबिक, इससे पहले 10 नवंबर में भी यहां बाघिन पी-213 (63) की मौत हो गई थी. पन्ना टाइगर रिजर्व में जन्मी व पली बढ़ी बाघिन पी-213 (63) उम्र 3 वर्ष थी.

गश्ती के दौरान टाइगर रिजर्व की टीम को अमानगंज बफर की बीट रमपुरा में बाघिन मृत मिली थी. बाघिन की मौत सूचना मिलते ही क्षेत्र संचालक पन्ना टाइगर रिजर्व, उप संचालक, पन्ना टाइगर रिजर्व एवं वन्यप्राणी चिकित्सक और राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण के प्रतिनिधि मौके पर पहुंचे निरीक्षण किया.

उससे पहले 9 जून को भी यहां एक बाघ मृत मिला था. एक वन अधिकारी ने बताया कि पी-111 नाम के इस बाघ की उम्र लगभग 13 साल थी. एक वन अधिकारी ने बताया कि वन गश्ती दल को पन्ना-कटनी राज्य राजमार्ग पर बाघ का शव मिला. यह बाघिन टी-1 की संतान था.

‘मध्य प्रदेश में देश में सबसे अधिक 526 बाघ’

अखिल भारतीय बाघ अनुमान रिपोर्ट 2018 के अनुसार, मध्य प्रदेश में देश में सबसे अधिक 526 बाघ हैं. लेकिन यहां कुछ समय से बाघों की मौत की खबरें लगातार सामने आ रही हैं. मध्य प्रदेश में कान्हा, बांधवगढ़, सतपुड़ा, पेंच, पन्ना और संजय दुबरी टाइगर रिजर्व सहित कई बाघ अभयारण्य हैं. बता दें कि अप्रैल में बालाघाट जिले के लालबर्रा वन परिक्षेत्र में बाघ के शावक का शव मिला था. तब वनाधिकारियों ने कहा था कि शावक की मौत आपसी संघर्ष में हुई क्योंकि उसके सभी अंग सुरक्षित मिले थे. मृत शावक की उम्र 18 महीने आंकी गई थी.

Show More

Related Articles

Back to top button