Vidisha News: पदनाम सहित 7 सूत्रीय मांगो को लेकर नियमित शिक्षकों का भोपाल संभाग में सांकेतिक प्रदर्शन ज्ञापन

अरुण कुमार सोनी, उज्जवल प्रदेश, विदिशा.
Vidisha News: समग्र शिक्षक संघ मध्य प्रदेश के बैनर तले 12 दिसंबर दिन सोमबार को समय 1:00 बजे से 3:00 बजे के बीच भोपाल संभाग में प्रदर्शन ज्ञापन कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

प्रांतीय उपाध्यक्ष समग्र शिक्षक संगठन मध्य प्रदेश लायन अरुण कुमार सोनी ने बताया कि 20 नवंबर 20 22 को इंदौर में आयोजित प्रांतीय स्तर की बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय के अनुसार पुराने संवर्ग के नियमित शिक्षक अपने लंबित मांगों को लेकर पांच दिसंबर से चरण बद्ध आंदोलन शुरुआत कर चुके है जिसमें उन्होंने अपने जिला स्तर पर 52 जिलो में प्रदर्शन ज्ञापन कार्यक्रम आयोजित किया था।

अब इसी क्रम में शिक्षा एवं जनजाति विभाग के पुराने संवर्ग के शिक्षक और व्याख्याता अपनी पुरानी लंबित मांगो को लेकर 12 दिसंबर को प्रदेश के सभी संभागीय मुख्यालयो पर उपस्थित होकर प्रदर्शन कर माननीय मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव के नाम संभाग आयुक्त को ज्ञापन सोपेगे इस ज्ञापन में प्रमुख मुद्दा पदनाम पदोन्नति रहेगा क्योंकि माननीय मुख्यमंत्री महोदय द्वारा आज से 6 पूर्व नसरुल्लागंज में घोषणा की गई थी कि सभी पुराने केडर के शिक्षकों को उनकी योग्यता एवं वरिष्ठता अनुसार उनको पदनाम दिए जाएंगे।

वरिष्ठ शिक्षक वरिष्ठ रहेगा एवं कनिष्ठ शिक्षक कनिष्ट रहेगा परंतु उस घोषणा पर अधिकारियों द्वारा आज तक कोई कार्यवाही नहीं कि गई इस बात को समग्र शिक्षक संगठन मध्य प्रदेश के प्रयासों से विधानसभा प्रश्न विधानसभा में उठाया जा रहा है।

माननीय विधायक बापूजी तवर जीने तारांकित प्रश्न क्रमांक 520 के द्वारा विधानसभा में पूछा है की मध्य प्रदेश में कर्मचारियों की पदोन्नति कब से रुकी हुई है? और क्यों? आदि आदि प्रश्न पूछे गए हैं इस ज्ञापन की मांगे निम्न प्रकार है :

प्रथम नसरुल्लागंज में की गई घोषणा की अनुसार पदनाम पदोन्नति प्रदान करें जिसमें सहायक शिक्षक उच्च श्रेणी शिक्षक प्रधान पाठक और व्याख्याता को उनकी शिक्षा एवं वरिष्ठता अनुसार पदनाम पदोन्नति प्रदान करना।

दूसरी मांग यह है कि सहायक शिक्षकों को 30 वर्ष की सेवा के बाद 4200 के स्थान पर 54 00 ग्रेड प्रदान किया जाए एवं व्याख्याता 6600 के स्थान पर 7 600 गेड दिया जाए।

तीसरी मांग यह है कि शिक्षकों को भी अन्य विभागों की तरह 300 दिवस का अर्जित अवकाश का नगदी करण का लाभ दिया जाए।

चौथी मांग यह है कि केंद्र एवं अन्य राज्यों सरकार की तरह मध्य प्रदेश सरकार भी कर्मचारी बीमा का लाभ दे।

पांचवी मांग यह है कि सातवें वेतनमान के अनुसार ग्रह भाड़ा एवं बीमा कटौती का लाभ प्रदान करें।

छटवीं मांग यह है कि पेंशन समाज के हित में धारा 49 को हटाया जाए एवम उनके एरियर्स उनकी देय तिथि से दिए जाए स्थानांतरण गाइडलाइन के विपरीत वरिष्ट शिक्षकों को अतिशेष मानने में संशोधन किया जाए।

सातवीं मांग यह है कि अनुकंपा नियुक्ति के लिए भटक रहे कर्मचारियों के परिवारों को शीघ्र ही बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति प्रदान की जाए प्रांतीय उपाध्यक्ष लायन अरुण कुमार सोनी ने सभी शिक्षकों से इस प्रदर्शन में उपस्थित होने की अपील की है।

Big Breaking News : चयनित शिक्षकों ने BJP कार्यालय सामने किया अनोखा प्रदर्शन

Related Articles

Back to top button