महाकोशल में स्थापना दिवस खास बनाएगी भाजपा, बूथों पर ध्यान केंद्रित

जबलपुर
हर आयोजन को ईवेंट बनाने और आत्म विष्लेषण कर समाधान खोजने वाली भाजपा के लिए कल का दिन खास है। 6 अप्रैल को पार्टी का स्थापना दिवस है। इस अवसर पर पार्टी अपनी एक-एक कमजोरी दूर करने और अतीत की गल्तियों को सुधार कर आगे बढ़ने का संकल्प लेने वाली है। भाजपा का ध्यान उस वोटबैंक की तरफ है जो अभी पार्टी से दूर है। इसके साथ ही महाकोशल की उन सीटों जहां पार्टी को पराजय का सामना करना पड़ा है, पर भी पार्टी की खास नजर है। कार्यकर्ताओं को विजयश्री की शपथ दिलाई जाएगी।

कई कार्यक्रम होंगे
 स्थापना दिवस पर महाकोशल की सभी शहर-जिला ग्रामीण इकाइयों में कई कार्यक्रम होंगे। महाकोशल के हर जिले में हजार के लगभग बूथ हैं। जबलपुर चूंकि संभागीय मुख्यालय है, यहां नगरीय स्तर पर चूंकि 954 बूथ और ग्रामीण स्तर पर 1175 बूथ हैं। भाजपा यहां से पूरे महाकोशल में आगामी कार्यक्रमों का बिगुल फूंकेगी। पार्टीजनों को हर बूथ पर कार्यक्रम करने संबंधी आदेश भोपाल से आया है।

बूथ स्तर पर आयोजन
भाजपा हर मंडल-जिले में भी एक कार्यक्रम आयोजित करेगी। पार्टी के शक्ति केंद्रों पर भी आयोजन होंगे। इस दौरान प्रभात फेरी, पार्टी ध्वज वंदन, और पंचनिष्ठ शपथ ग्रहण होगा। कार्यकर्ता टोपी पहन कर शपथ लेंगे। इसके अलावा भारत रत्न डॉ भीमराव अंबेडकर की जयंती पर भी कार्यक्रम करने के आदेश हैं। पराजित सीटों के बूथों को बहुत मजबूत करने का लक्ष्य पार्टी ने बनाया है।

अब कोरोना की बंदिशें नहीं
 इस बार चूंकि कोरोना संबंधी कोई बंदिश नहीं है, इस कारण भाजपाइयों को पिछले बार से अच्छे आयोजन करने के निर्देश हैं। पिछली बार लॉकडाउन लगा था, इस कारण पार्टी ने सेवा दिवस के रूप में कार्यक्रम आयोजित किए थे।  वरिष्ठ नेताओं ने इस आयोजन में शिरकत की थी। सांसदों ने स्वयं पूड़ियां तलीं थीं, तो विधायकों ने सब्जी छौंकी थी। भाजपा नेताओं ने सबको खाना बांटा था। इस बार पब्लिक प्रोग्राम की तैयारियां की जा रहीं हैं।

 

 

Related Articles

Back to top button