PM मोदी के जन्मदिन पर आज से रक्तदान अभियान प्रारंभ

भोपाल

ब्लड डोनेशन के मामले में मध्यप्रदेश अब एक सीढ़ी और चढ़ सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के अंतर्गत आज से रक्तदान अभियान प्रारंभ हुआ है। इस अभियान की खास बात यह है कि रक्तदाताओं की कुंडली बनाई जा रही है, ताकि रेयर ब्लड भी आसानी से मिल सके। रक्तदान के लिए भोपाल सहित कई स्थानों पर लाइन लगी हैं।

पिछले पांच सालों से रक्तदान के मामले में मध्यप्रदेश पीछे चल रहा था। लेकिन 2022 में जनवरी से लेकर अगस्त तक यहां के रक्तदाताओं ने यह रिकार्ड तोड़ दिया। लेकिन अभी भी मध्यप्रदेश 5 राज्यों से पीछे है। लेकिन आज जिस तरीके से आज मध्यप्रदेश में रक्तदान हो रहा है उससे ऐसा लग रहा है कि अब प्रदेश एक सीढ़ी और ऊपर चलेगा। इस अभियान में खास बात यह है कि रक्तदाताओं की कुंडली बनाई जा रही है। जिसमें उनका पूरा लेखा-जोखा रहेगा, ताकि जरूरत पढ़ने पर उनसे संपर्क किया जा सके।

शहर में 90 स्थानों पर कैंप
शहर में 90 स्थानों पर आज ब्लड डोनेशन कैंप लगाए गए हैं। सबसे पहले कलेक्टर अविनाश लवानिया, पुलिस कमिश्नर मकरंद देऊस्कर ने रक्तदान किया। इसके साथ कई अधिकारियों, कर्मचारियों और सुरक्षा कर्मियों एवं अन्य नागरिकों ने  ब्लड डोनेट किया

ऐसे लगाई छलांग
जनवरी 2022 से अगस्त तक 2 लाख 20 हजार यूनिट से ज्यादा ब्लड कलेक्शन हुआ, जबकि 2020 तक केवल 1 लाख 10 हजार यूनिट के आसपास रक्तदान हुआ था। धीरे-धीरे प्रदेश में रक्तदान के प्रति जागरुकता आई। पिछले पांच सालों के मुकाबले अब 115 फीसदी से अधिक रक्तदान हो रहा है।

फिर भी यह बढ़ी समस्या
एमपी में 180 ब्लड सेंटर हैं इनमें 71 सरकारी हैं। समस्या खास ग्रुप के खून को लेकर है। ए पॉजिटिव और बी पॉजिटिव ब्लड तो आसानी से मिल जाता है। लेकिन ए  और ओ नेगेटिव ग्रुप के ब्लड मुश्किल से मिलते हैं। इसलिए अब रक्तदाताओं का पूरा रिकॉर्ड रखा जा रहा है।

ऐसे बढ़ा ब्लड कलेक्शन
साल        रक्तदान
2018        31887
2019        30641
2020        46783
2021        176550
2022        2,20,000
अगस्त

Related Articles

Back to top button