मुख्यमंत्री चौहान ने शहीद मंगल पांडेय को किया नमन

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  शहीद मंगल पांडेय के बलिदान दिवस पर उन्हें नमन कर स्मरण किया। मुख्यमंत्री चौहान ने निवास कार्यालय स्थित सभागार में शहीद मंगल पांडेय के चित्र पर माल्यार्पण किया। कुरवाई से विधायक हरि सप्रे तथा वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता बाबूलाल जाट भी उपस्थित थे।

देश में आजादी की लड़ाई का पहली बार शंखनाद करने वाले अमर शहीद मंगल पांडेय का जन्म 19 जुलाई 1827 को उत्तर प्रदेश के बलिया में हुआ था। वे ईस्ट इंडिया कंपनी की 34वीं बंगाल इंफेन्ट्री के सिपाही थे। उन्हें आजादी की लड़ाई के नायक के रूप में सम्मान दिया जाता है। भारत के स्वाधीनता संग्राम में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका को लेकर भारत सरकार द्वारा उनके सम्मान में सन् 1984 में डाक टिकट जारी किया गया।

अंग्रेजों को डर था कि क्रांतिकारी मंगल पांडेय ने विद्रोह की जो चिंगारी जलाई है, वह देश में कहीं ज्वाला न बन जाए। इसलिए तय तारीख से 10 दिन पहले ही 8 अप्रैल 1857 को मंगल पांडेय को फाँसी दे दी गई।

 

Related Articles

Back to top button