भीषण गर्मी में पानी की समस्या पर CM शिवराज एक्टिव

भोपाल
देर रात नसरुल्लागंज से लौटे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को  सुबह साढ़े छह बजे अचानक सीएम हाउस में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के आला अफसरों की बड़ी बैठक बुला ली। मुख्यमंत्री ने अफसरों कहा कि अधिकारीगण मैदानी स्तर की केवल अच्छी पिक्चर ही नहीं दिखाए, समस्याओं की भी जानकारी भी दें, समस्याओं का समाधान करना और आवश्यक समन्वय कर हल निकालना हमारी जिम्मेदारी भी है और धर्म भी। उहोंने कहा कि फील्ड में पेयजल की स्थिति में सुधार की जरूरत है। आने वाले गर्मी के मौसम में प्रदेश में पेयजल और पानी की आपूर्ति सुचारु हो इसके लिए हर संभव प्रयास किए जाएं।

मुख्यमंत्री देर रात डेढ़ बजे नसरुल्लागंज का दौरा कर भोपाल वापस लौटे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने सुबह-सुबह सीएम हाउस में पीएचई के अफसरों की बैठक बुला ली। बैठक में पीएस टू सीएम मनीष रस्तोगी, पीएस पीएचई मलय श्रीवास्तव, एमडी जल निगम तेजस्वी नायक, कमिश्नर भोपाल गुलशन बामरा, ईइनसी पीएचई , सीहोर कलेक्टर सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

फील्ड में पेयजल की जरूरत
बैठक में सीएम ने पेयजल की स्थिति को लेकर चिंता व्यक्त की। उन्होंने अफसरों से कहा कि फील्ड में पेयजल की स्थिति में सुधार की जरूरत है। नियमित जल आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। उन्होंने गर्मी के मौसम में प्रदेश में  पेयजल और पानी की सुचारू सप्लाई को लेकर निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि वोल्टेज की प्रॉब्लम  के कारण पानी नही दें पाना चिंताजनक है। विद्युत विभाग से समन्वय कर जल उपलब्ध कराए।

सख्त निर्देश: टीम की ड्यूटी है कि पानी हर घर में उपलब्ध हो
सीएम ने कहा कि उनके  मन मे तकलीफ है लोगों को पानी समय पर नहीं मिल पा रहा, यह आपकी ड्यूटी है यदि कोई समस्या हो तो समय पर अवगत कराएं। जितना इंफ्रा बना हो उसका उपयोग कर पानी दें। सीएम ने कहा कि जहां आवश्यक हो पानी का परिवहन कराए। उन्होंने कहा कि इस टीम की ड्यूटी है कि पानी हर घर में उपलब्ध हो।

इतना वर्कआउट करके शाम को मेरे सामने लाएं

  • समस्याग्रस्त क्षेत्रों में टेम्पररी और स्थायी समाधान के प्रयास करें। जल जीवन मिशन योजनाओं का आकलन तेजी से करें।
  • ग्राउंड लेवल तक अमले को अलर्ट मोड पर रखें। अमले की और जरूरत है तो आवश्यकतानुसार उसकी पूर्ति करें।
  • लो प्रेशर बिजली के कारण टंकियों में पानी नहीं भर पाने जैसी समस्याओं और गैप्स का तत्काल समाधान करें
  • इन सभी  निर्देशों पर पूरा वर्क आउट करें, एक्शन प्लान तैयार कर आज शाम तक मेरे समक्ष रखें।
  • शाम की बैठक में ग्रामीण विकास, नगरीय विकास, ऊर्जा विकास के प्रमुख अधिकारी भी पूरा वर्क आउट कर आएं ।

Related Articles

Back to top button