MP Billabong School मामले में CM Shivraj ने लिया संज्ञान, कड़ी कार्रवाई के निर्देश

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बिलाबांग स्कूल (MP Billabong School) में नर्सरी की साढे 3 वर्षीय बच्ची के साथ स्कूल बस ड्राइवर द्वारा किए गए गलत कार्य की घटना पर अब सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने संज्ञान लिया।

भोपाल

MP Billabong School : सीएम हाउस में आज सुबह 7:00 बजे बुलाई गई बैठक (cm shivraj meeting) में सीएम शिवराज ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए।

निजी स्कूल बस में हुई घटना के मामले में मुख्यमंत्री ने समीक्षा करते हुए कहा कि स्कूल बस में कौन ड्राइवर रखा जाएगा, यह स्कूल प्रबंधन की जिम्मेदारी है। स्कूल प्रबंधन समय-समय पर इस बात की तफ्तीश करें। वही स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा की गई कार्रवाई पर भी सीएम शिवराज ने रिपोर्ट की समीक्षा की।

उन्होंने स्कूल शिक्षा विभाग के द्वारा अब तक की गई कार्यवाही पर भी सवाल जवाब किए हैं। साथ ही स्कूल प्रबंधन पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

अधिकारियों को निर्देश देते हुए सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कहा कि स्कूल बसों में सीसीटीवी कैमरे की स्थिति का निरीक्षण किया जाए। यह कोई साधारण घटा नहीं है। निश्चित समय सीमा में कार्रवाई हो और ड्राइवर के साथ इस मामले में हर लोग जिम्मेदार है। इन पर कार्रवाई होनी चाहिए।

समीक्षा बैठक करते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि रोज हजारों बच्चे स्कूल आना-जाना करते हैं। ऐसे में अगर वह असुरक्षित महसूस करेंगे तो यह शर्म की बात है। कितना भी बड़ा स्कूल हो वह सभी कार्यवाही के लिए जवाबदार हैं और जितनी जल्दी हो सके इस मामले में सजा सुनिश्चित की जाए।

स्कूल शिक्षा विभाग को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि स्कूल बस के सभी ड्राइवर का पुलिस से वेरिफिकेशन कराया जाए। सभी स्कूल को क्लियर मैसेज दिया जाए। किसी भी तरह की लापरवाही होने पर इसके लिए पूर्ण रूप से प्रबंधन जिम्मेदार होगा।

इससे पहले इस मामले में आरोपी रहे ड्राइवर हनुमंत और आया उर्मिला को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि स्कूल प्रबंधन द्वारा इस मामले में लापरवाही बरती गई है। वही भोपाल में इस घटना के बाद कानून व्यवस्था और स्कूल बसों की सुरक्षा पर लगातार सवाल उठ रहे हैं। ऐसे में अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा स्कूल बसों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही उस का औचक निरीक्षण भी किया जाएगा।

Related Articles

Back to top button