सीएमएचओ ने रक्तदान कर किया स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का शुभारंभ

सीधी
जिले में शनिवार को शासन के निर्देशानुसार स्वैच्छिक रक्तदान को बढ़ावा देने के लिए 17 सितंबर से 01 अक्टूबर के मध्य रक्तदान शिविरों के आयोजन करने की कार्ययोजना तैयार की गई है।

शनिवार को जिला चिकित्सालय में रक्तदान शिविर का शुभारंभ हुआ इस अवसर पर कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ० आई. जे गुप्ता ,सिविल सर्जन डॉ० देवेंद्र सिंह ,आरएमओ डॉ० लक्ष्मण पटेल, डीपीएम सौरभ सिंह चौहान, डॉ० अमन सिंह, सहित अन्य चिकित्सक, विशेषज्ञ एवं अन्य स्टाफ उपस्थित रहे। सर्वप्रथम सीएमएचओ डॉ० आई. जे. गुप्ता द्वारा रक्तदान किया गया तत्पश्चात अस्पताल के सक्रिय कर्मी राजेश सिंह चौहान, एवं अन्य स्टाफ ने भी रक्तदान किया।

जिले में आयोजित की जा रहे शिविरों का उद्देश्य नागरिकों की व्यापक और सक्रिय भागीदारी के साथ स्‍वैच्छिक रक्तदान के संबंध में जागरूकता बढ़ाना है। जिला अस्पताल में आयोजित स्वैच्छिक रक्तदान शिविर में संत निरंकारी सेवा मंडल का विशेष योगदान रहा साथ ही जन अभियान परिषद के आवाहन पर विकास खंड एवं जिला अस्पताल में रक्तदान कराया गया।

भाजपा जिला अध्यक्ष इंद्रशरण सिंह चौहान एवं भारतीय युवा मोर्चा अध्यक्ष निशांत मिश्रा द्वारा भी शिविर में उपस्थित होकर लोगों को रक्तदान के लिए उत्साहित किया गया। सायं 5:00 बजे तक जिला अस्पताल के अंतर्गत 20, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सेमरिया में 14, रामपुर नैकिन में 5 सिहावल में 1, कुसमी में 2 इस प्रकार से कुल 42 लोगों के द्वारा रक्तदान किया गया।

कलेक्टर सीधी द्वारा शिविर का जायजा लेते हुए कहा की आप सभी के द्वारा किया गया रक्तदान किसी के जीवन के लिए वरदान हो सकता है, आने वाले दिनों में 18 से 65 वर्ष के लोग जिनका वजन 45 किलो या उससे अधिक हो और शारीरिक रूप से स्वस्थ हो रक्तदान कर सकते हैं। रक्त दान महादान, भारत सरकार द्वारा अभियान के लिए नारा ‘रक्तदान सामाजिक एकजुटता का प्रतीक है।

स्वैच्छिक रक्तदान एवं सुरक्षित रक्त के प्रति जन-सामान्य में जागरूकता बढ़ाने और उन्हें स्वैच्छिक रक्तदान के लिए प्रेरित करने के लिए यह आवश्यक है कि सुरक्षित रक्त एवं स्वैच्छिक रक्तदान का व्यापक प्रचार-प्रसार हो, ताकि अधिक से अधिक स्वस्थ्य व्यक्तियों को नियमित स्वैच्छिक रक्तदान करने के लिए सहज वातावरण निर्मित हो और सभी यूवा साथियों के सहयोग से स्वैच्छिक रक्तदान के लिए इस अभियान को सफल बनाने में निरंतर नए लोगों को जोड़ा जा सके।

Related Articles

Back to top button