डीएवीवी ने नान सीईटी पंजीयन की तारीख आगे बढ़ाई

 इंदौर
 देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) ने नान सीईटी के माध्यम से 90 स्नातक-स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। सीटों की तुलना में कम आवेदन होने की वजह से विश्वविद्यालय ने पंजीयन की अंतिम तिथि बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है। अब 30 जून तक पंजीयन रखने को लेकर शुक्रवार को बैठक बुलाई है। वहीं काउंसलिंग प्रक्रिया अब जुलाई के पहले सप्ताह के बाद शुरू करने पर जोर दिया है।

नान सीईटी में रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 10 जून रखी है, लेकिन पंजीकरण की संख्या कम होने के कारण विश्वविद्यालय ने समय सीमा को 20 अतिरिक्त बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए प्रवेश समिति के अलावा विभागाध्यक्षों की बैठक बुलाई है। सूत्रों के मुताबिक कुलपति और विभागाध्यक्षों ने तिथि बढ़ाने पर सहमति दे दी है। शुक्रवार को बैठक में औपचारिक फैसला लिया जाएगा। 90 पाठ्यक्रम की 3465 सीटों पर पंजीकरण की संख्या केवल 2500 से अधिक तक पहुंच गई है। सीटों की तुलना में कम आवेदन आए है। वैसे शुक्रवार को पंजीयन का अंतिम दिन है। मगर तारीख बढ़ाई जाना है।

शुक्रवार को बैठक बुलाई गई, जिसमें पंजीयन और काउंसलिंग को निर्णय लिया गया। सूत्रों के मुताबिक 30 जून तक तारीख बढ़ाई जा सकती है, जबकि 20 जून से शुरू होने वाले काउंसलिंग भी पंद्रह दिन आगे खिसकाई जाएगी। नान सीईटी समिति के अध्यक्ष डा. अशुतोष मिश्रा का कहना है कि पंजीयन की तारीख बढ़ाने के लिए विभागों ने सहमति दे दी है। शुक्रवार को बैठक में काउंसलिंग को लेकर फैसला लेना है।

सीयूईटी में 72 हजार आवेदन

नान सीईटी के अलावा विश्वविद्यालय के 14 विभाग से संचालित 23 स्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए सीयूईटी करवाई जाएगी। 1500 आवेदन के लिए 72213 पंजीकरण हुए है। जबकि 22 स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम में अभी आवेदन बुलवाए जा रहे है। एनटीए ने 18 जून तक पंजीयन की व्यवस्था रखी है।

Related Articles

Back to top button