शहर में डेंगू तेजी से पसार रहा पैर, 200 के पार हुए मरीज

 भोपाल

राजधानी में डेंगू तेजी से पैर पसार रहा है। शहर में डेंगू के मरीजों की संख्या 200 के पार तक पहुंच गई है। अक्टूबर माह में प्रतिदिन डेंगू के मरीज सामने आ रहे हैं। कोलार और इंद्रपुरी हॉट स्पॉट बने हुए हैं, इसके अलावा हलालपुर, टीला जमालपुरा, पीरगेट, बुधवारा, कमला नगर, कटारा हिल्स, एम्स हॉस्टल, बरखेड़ा पठानी, हर्षवर्धन नगर, निजामुद्दीन कालोनी में भी यहां लगातार मरीज मिल रहे हैं। कोलार तो यह आलम है कि मंदाकिनी कॉलोनी, राजहर्ष सोसायटी और सांईनाथ कॉलोनी में सर्वे के दौरान बड़ी मात्रा में घरों में लार्वा मिला था।

दवाएं भी हो रहीं बेअसर
विभाग में सालों से कीट विज्ञानी नहीं है। इससे यह पता नहीं चलता कि जिन दवाओं का छिड़काव हो रहा है, उनका मच्छरों पर असर है भी या नहीं। वहीं बैक्टीरिया और वायरस खुद को दवाओं के अनुरूप ढाल लेते हैं।

ऐसे कैसे होगी रोकथाम
 विभाग 45 साल से कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा है। विभाग में कर्मचारी रिटायर्ड तो रहे हैं, लेकिन नई भर्ती नहीं हो रही हैं, ऐसे में अन्य कर्मचारियों पर इसका भार पड़ रहा है। इसके चलते न डेंगू को लेकर रोकथाम ठीक से हो पा रही है और न सर्वे हो पारा है।  विभाग में कुल 102 कर्मचारी नियुक्त हैं, जबकि आवश्यकता 210 कर्मचारियों की है। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. अखिलेश दुबे ने बताया कि डेंगू के रोकथाम को लेकर सर्वे व दवाओं का छिड़काव जारी है, कर्मचारियों की भर्ती के लिए शासन स्तर पर प्रयास जारी हैं।

Related Articles

Back to top button