शिक्षा मंडल ने रिटोटलिंग के लिए व्यवस्था में किया व्यवस्था

भोपाल
 मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MP Board of Secondary Education), भोपाल के 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर है। बोर्ड  ने रिटोटलिंग के लिए एक व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया है।इसके तहत अब परीक्षा कॉपी की छाया प्रति लेने के लिए छात्रों को पहले रिटोटलिंग का फॉर्म भरना होगा।इसके बाद ही छात्रों को परीक्षा कॉपी दी जाएगी।बता दे कि अब तक छात्र रिटोटलिंग और कॉपी की छायाप्रति के लिए अलग अलग आवेदन करते थे

दरअसल, हाल ही में बोर्ड द्वारा 10वीं-12वीं के नतीजे ऑफिशियल वेबसाइट mpbse.nic.in और mpresults.nic.in पर जारी किए है, जो छात्र-छात्राएं अपने परिणाम से संतुष्ट नहीं है वे रिटोटलिंग और उत्तर पुस्तिका के लिए 13 मई तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।लेकिन कॉपी लेने से पहले छात्रों को रिटोटलिंग का फॉर्म भरना जरूरी होगा। रिटोटलिंग का फॉर्म भरे छात्रों को ही कॉपी की छाया दी जाएगी। कॉपी की छायाप्रति लेने के लिए छात्रों को अब रिटोटलिंग का फॉर्म भरना होगा।

बोर्ड ने साफ किया है कि अगर कोई छात्र कॉपी की छायाप्रति लेना चाहता है और अगर रिटोटलिंग का फॉर्म नहीं भरा है तो ऐसे छात्रों को कॉपी की छायाप्रति नहीं दी जाएगी। यह बदलाव एमपी बोर्ड ने इसी साल 2022 से किया है। अंकों और कॉपी को देखने के लिए छात्रों को पहले रिटोटलिंग का फॉर्म भरना अनिवार्य होगा।रिटोटलिंग एवं उत्तर पुस्तिका की फोटोकॉपी के लिए आवेदन करने की लास्ट डेट 13 मई 2022 है।

माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश द्वारा बताया गया है कि ऑनलाइन आवेदन दिनांक 13 मई 2022 के 10 दिन बाद यानी कि 23 मई 2022 तक रिटोटलिंग एवं उत्तर पुस्तिका आवेदनों के रिजल्ट जारी कर दिए जाएंगे। सभी रिजल्ट MP ONLINE और MPBSE MOBILE APP के माध्यम से जारी किए जाएंगे। यदि अंकों में कोई परिवर्तन होता है तो 25 दिन के भीतर साधारण डाक से उम्मीदवार के पते पर मार्कशीट भेजी जाएगी। उत्तरपुस्तिका की छायाप्रति प्राप्त करने वाले छात्र को पुनर्गणना का आवेदन करना अनिवार्य होगा।

Related Articles

Back to top button