बालाघाट के सातनारी जलाशय से बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

बालाघाट

आयुष राज्य मंत्री (स्वंतत्र प्रभार) रामकिशोर 'नानो' कावरे ने कहा है कि सातनारी जलाशय बनने से बालाघाट जिले के अनुसूचित जनजाति बहुल अंचल परसवाड़ा में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे तथा किसानों की आर्थिक स्थिति और अधिक मजबूत होगी। राज्य मंत्री कावरे गुरूवार को सातनारी जलाशय के भूमि-पूजन समारोह को संबोधित कर रहे थे। 10 करोड़ 29 लाख रूपये की लागत से बनने वाले जलाशय का निर्माण जल संसाधन विभाग द्वारा किया जा रहा है।

राज्य मंत्री कावरे ने कहा कि सातनारी जलाशय का कार्य पिछले 40 वर्ष से अधूरा पड़ा था। लेकिन उनकी पहल से जलाशय का निर्माण अब पुन: तय की गई समय-सीमा जून-2023 तक पूरा किया जाएगा। योजना के पूरा होने पर जनजाति बहुल क्षेत्र के 500 किसान को सिंचाई का लाभ मिलेगा और क्षेत्र की 320 हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। उन्होंने कहा कि जलाशय में मत्स्य पालकों को भी रोजगार के अधिक से अधिक अवसर दिये जाएंगे। साथ ही पर्यटन के अवसर भी बढ़ाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जलाशय बनने से ग्राम बुढ़ियागांव, टाकाबर्रा, अलीटोला, खुरसोड़ा और खर्राकोना के किसानों को सिंचाई सुविधा में लाभ मिलेगा।

जन सेवा अभियान के शिविर में हुए शामिल

आयुष राज्य मंत्री कावरे ग्राम समनापुर में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान में लगाए गये शिविर में भी शामिल हुए। उन्होंने ग्रामीणों की समस्याओं को सुना और संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। राज्य मंत्री कावरे ने कहा कि शिविर लगाए जाने का उद्देश्य ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं का लाभ सुलभता से उपलब्ध कराना है। उन्होंने कहा कि इस अभियान में 38 योजना को शामिल किया गया है। शिविर से इन योजनाओं के लाभ से वंचित लोगों का पता लगाया जाता है। उन्हें योजना का लाभ दिलाया जाता है। किसी हितग्राही के पास कोई दस्तावेज नहीं है तो उसे शिविर में ही दस्तावेज तैयार करके दिया जाएगा। इस मौके पर पंचायत प्रतिनिधि भी मौजूद थे।

 

Related Articles

Back to top button