सेवानिवृत सहायक यंत्री के घर ईओडब्ल्यू का छापा, 12 प्लाट, छह आलीशान मकान सहित करोड़ों की संपत्ति

बालाघाट
 बालाघाट के भटेरा में सेंटमेरी स्कूल के समीप निवासरत विद्युत विभाग के सेवानिवृत सहायक यंत्री दयाशंकर प्रजापति के घर पर ईओडब्ल्यू जबलपुर की टीम ने आज सुबह करीब पांच बजे पहुंचकर आय से अधिक संपति के मामले में कार्रवाई शुरू कर दी है।

ईओडब्ल्यू डीएसपी मंजीत सिंह ने बताया कि ईओडब्ल्यू जबलपुर में शिकायत हुई थी कि सेवानिवृत सहायक यंत्री व उनकी पत्नी के विरुद्ध शिकायत हुई थी कि सेवाकाल के दौरान आय से अधिक संपति अर्जित की गई और एक सतपुड़ा फायनेंस कंपनी चलाई जा रही है, जिसके नाम पर प्रापर्टी खरीदने और बेचने का कार्य किया जा रहा है। शिकायत पर भोपाल में प्रकरण दर्ज किया गया है।

न्यायालय से वारंट लेकर शुरू की कार्रवाई

डीएसपी ने बताया कि बालाघाट न्यायालय से कार्रवाई का वारंट लेकर प्रारंभिक जांच शुरु की गई है, यहां करोड़ों की संपति पाई है, जिसमें जहां वे लोग रह रहे हैं, वहीं चार आलीशान मकान, दो प्लाट, प्रेमनगर में भी मकान है और कंपनी के नाम पर भी काफी संपति है। वहीं बूढ़ी में पांच प्लाट, गर्रा में एक प्लाट, गायखुरी में एक प्लाट,ग्राम मौजा में पांच प्लाट मिले हैं। उन्होंने बताया कि इस बात की भी जांच की जा रही है।

पत्नी के नाम की कंपनी की जांच

सेवाकाल के दौरान पत्नी के नाम शु़रू की गई कंपनी की जानकारी विभाग को दी गई है, या नहीं वहीं अभी वर्तमान में कंपनी के एमडी अभी सहायक यंत्री स्वयं है। उन्होंने बताया कि 2018 में वे सिवनी जिले से सेवानिवृत हुए हैं। ईओडब्ल्यू जबलपुर से डीएसपी मंजीत सिंह, निरीक्षक लक्ष्मीप्रसाद यादव, निरीक्षक छविकांति आर्मो, निरीक्षक शशिकला मस्कुले, निरीक्षक मोमेन्द्र मर्सकोले, उपनिरीक्षक कीर्ति शुक्ला समेत अन्य स्टाफ कार्रवाई कर रहा है। वहीं बालाघाट पुलिस की भी सुरक्षा के लिहाज से मदद ली गई है।

Related Articles

Back to top button