कुपोषण दूर करने हर वर्ग सहयोग के लिए आएं आगे : मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज इंदौर से श्योपुर एवं बड़ौदा नगर की 178 करोड़ रुपए लागत की जलावर्धन योजना का रिमोट दबाकर वर्चुअली भूमि-पूजन किया। इस अवसर पर श्योपुर में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर विशेष रूप से मौजूद थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कार्यक्रम को वर्चुअली रूप से संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में कुपोषण की रोकथाम के लिए कारगर कदम उठाये जा रहे हैं। इसके लिए अनेक योजनाओं और कार्यक्रमों का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इन योजनाओं और कार्यक्रमों का प्रभावी क्रियान्वयन समाज की सहभागिता से ही संभव है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कुपोषण को दूर करने के लिए समाज के हर वर्ग को आगे आना चाहिए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आंगनवाड़ियों की सुविधाओं को सुदृढ़ बनाने के लिए जन सहयोग एकत्र किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री चौहान ने समाज के सभी वर्गों का आह्वान किया कि वे अधिक से अधिक जन सहयोग प्रदान करें। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में स्वच्छता का कार्य जन आंदोलन के रूप में किया जा रहा है। श्योपुर एवं बड़ौदा जैसे शहर भी स्वच्छता के क्षेत्र में पीछे नहीं रहना चाहिए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि श्योपुर के सर्वांगीण विकास में कोई कसर नहीं रखी जा रही है। श्योपुर सर्वांगीण विकास किया जा रहा है। स्वास्थ्य, शिक्षा, सड़क, बिजली, पानी, आवास आदि मूलभूत सुविधाओं के विस्तार पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आज शिलान्यास हुई योजना दूरदृष्टि सोच का परिणाम है। इस योजना से पेयजल समस्या का निदान होगा। हमारा प्रयास रहेगा कि इस योजना का कार्य तीन वर्ष के निर्धारित समय से पूर्व पूर्ण हो जाये।

केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा कि पेयजल जीवन की मूलभूत जरूरत है। प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में उल्लेखनीय कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि श्योपुर एवं बड़ौदा के जलावर्धन योजना में पार्वती नदी से इन दोनों शहरों में जल पहुँचेगा जिससे दोनों शहरों में पर्याप्त पेयजल उपलब्ध रहेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री चौहान के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि श्योपुर लगातार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है।

Related Articles

Back to top button