पूर्व सैनिकों ने रोका केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का काफिला, नहीं मिल रहा 10% आरक्षण का लाभ

ग्वालियर
एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर का पूर्व सैनिक संगठन ने घेराव किया. पूर्व सैनिकों ने नारेबाजी करते हुए सिंधिया के काफिले को रोक दिया. पुलिस ने रास्ता खुलवाने की कोशिश की, लेकिन नाकाम रही. इसके बाद सिंधिया अपनी कार बाहर निकले और पूर्व सैनिकों से मिलकर उनकी मांगे सुनीं और उन्हें पूरा कराने का आश्वासन दिया. इसके बाद ही पूर्व सैनिकों ने उनके काफिले को जाने दिया.

पूर्व सैनिकों की मांग नहीं मिल रहा 10 फीसदी आरक्षण का लाभ
केंद्रीय मंत्री के काफिले का घेराव करते हुए पूर्व सैनिकों का कहना था कि प्रदेश सरकार द्वारा निकाली गई आरक्षक भर्ती में पूर्व सैनिकों को 10 फ़ीसदी आरक्षण का लाभ दिया जाना था, लेकिन सरकार ने आरक्षण प्रक्रिया को खत्म करते हुए पूर्व सैनिकों को छूट से वंचित कर दिया है. जिसके विरोध में पूर्व सैनिक लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं. पूर्व सैनिकों का कहना है कि 1999 से इस 10 फीसदी आरक्षण का लाभ मिल रहा था, लेकिन राज्य सरकार ने उसे खत्म कर दिया है.

लगे सिंधिया वापस जाओ के नारे
आरक्षण बहाली की मांग और इसे हटाए जाने का विरोध करते हुए पूर्व सैनिक संगठनों के प्रदर्शन में सिंधिया वापस जाओ, सैनिक एकता और भारतीय सेना जिंदा के नारे भी लगे. पूर्व सैनिकों के विरोध को देखते हुए सिंधिया अपनी कार से बाहर आए और पूर्व सैनिकों से बात कर उन्हें उनकी मांग पूरी कराने का आश्वासन दिया. पूर्व सैनिकों को इस बात की जानकारी थी की केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर आ रहे हैं तो सैकड़ों की संख्या में पूर्व सैनिक ग्वालियर रेलवे स्टेशन पहुंच गए और जैसे ही सिंधिया का काफिला बाहर निकला उन्होंने काफिले को घेर लिया.

Related Articles

Back to top button