पहले चरण का मतदान कल: आज डोर टू डोर तूफानी दौरे

भोपाल
प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव अंतिम चरण में पहुंच चुके हैं। कल पहले चरण के चुनावों में 11 नगर निगमों में  वोटिंग की जाएगी। इनमें 9 नगर निगमों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है, जबकि सिंगरौली और सतना में मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है। हालांकि दोनों ही पार्टियों ने अपनी-अपनी जीत का दावा किया। अपने-अपने प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करने के लिए दोनों
पार्टियों ने पूरी ताकत झोंक दी है।

प्रदेश के 11 नगर निगमों में बुधवार को मतदान होने जा रहा है। इसमें 9 निगर निगमों में कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है। जबकि सिंगरौली और सतना में त्रिकोणीय संघर्ष के आसार बन गए हैं। वहीं चुनाव प्रचार समाप्त होने के बाद आज सभी उम्मीदवार डोर टू डोर कैम्पेन में सुबह से ही जुट गए हैं। वहीं दोनों ही दलों के कार्यकर्ता मतदाता पर्ची घर-घर पहुंचाने का काम कर रहे हैं ।

नगर निगम के पिछले चुनावों में कांग्रेस को सभी 16 नगर निगमों में महापौर के पद पर हार का सामना करना पड़ा था।  इस बार कांग्रेस ने नगर निगम चुनावों में पूरी ताकत झोंक दी। कमलनाथ ने पहले चरण के सभी निगमों में जाकर सभाएं और रोड शो किये। भोपाल में नाथ के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी सक्रिय रहे। वहीं खंडवा, बुरहानपुर में नाथ के अलावा प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव भी सक्रिय रहे। जबलपुर में विवेक तन्खा ने मोर्चा संभाला। बाकी जगहों पर सिर्फ कमलनाथ ने ही सभाएं की।

शिवराज, वीडी ने किए तूफानी दौरे
भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने तूफानी दौरे किए और जमकर प्रचार किया। वहीं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सक्रिय रहे। इधर मतदान के एक दिन पूर्व दोनों ही दलों के दिग्गज नेता इन सभी सीटों का फिडबैक ले रहे हैं। पीसीसी चीफ कमलनाथ के बंगले और पीसीसी में बने कंट्रोल रूम से फीडबैक लिया जाता रहा।

दूसरे चरण वाले क्षेत्रों में पहुंचे नाथ, देवास में जमकर बरसे
पहले चरण का मतदान का चुनाव प्रचार थमने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ आज से दूसरे चरण के मतदान वाले क्षेत्रों में सक्रिय हो गए हैं। देवास में 13 जुलाई को मतदान होना है। यहां पर उन्होंने शहर के प्रतिष्ठित नागरिकों से चर्चा की। इसके बाद उन्होंने यहां पर चुनावी सभा को भी संबोधित किया। कमलनाथ ने कहा कि अब देवास की शहर सरकार बदल दीजिए। भाजपा की शहर सरकार ने न तो क्षेत्र का विकास किया, ना ही यहां के लिए कोई नया प्रोजेक्ट दिया। शहर की सरकार बदलेगी वहीं16 महीने बाद प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। इसके बाद कांग्रेस की सरकार और महापौर मिलकर देवास की तस्वीर बदल देंगे। कमलनाथ ने कहा कि हमारी 15 महीने की सरकार में हमने अपनी नीति और नियत का प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश को लेकर उद्योगपतियों में विश्वास का भाव नहीं हैं, हमने यह विश्वास जगाने का काम अपनी सरकार में किया था। गौरतलब है कि कमलनाथ 24 जून से रोजाना कैंपेन कर रहे हैं। एक दिन में तीन से चार शहर की जगह एक या दो निगम पर फोकस रहा। अपने गढ़ छिंदवाड़ा पर ज्यादा जोर दिया। वे यहां तीन दिन लगातार रहे। सिंगरौली, सागर, सतना, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर, छिंदवाड़ा, खंडवा, बुरहानपुर में भी उन्होंने चुनावी सभाएं की हैं। सोमवार को भोपाल में रोड शो किया।

Related Articles

Back to top button