देशभर में मॉडल बन सकता है गुना का मिड डे मील डाइनिंग टेबल कांसेप्ट

भोपाल
प्रदेश के गुना जिले की ग्रामीण शालाओं में विद्यार्थियों के उपयोग के लिए मनरेगा से मध्यान्ह भोजन की डाइनिंग टेबल योजना देश भर मेंं मॉडल बन सकती है। इससे ग्रामीण विद्यार्थियों में आत्म-विश्वास पैदा हुआ है। प्रदेश के पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह से इस योजना को पूरे देश में लागू करने का आग्रह किया है।

आजादी के अमृत महोत्सव में पंचायती राज मंत्रालय के पंचायतों के नवनिर्माण का संकल्पोत्सव  विषय पर आईकॉनिक सप्ताह समारोह का उद्घाटन कार्यक्रम में मंत्री सिसोदिया ने ये बातें कहीं। उन्होंने सोमवार को दिल्ली में उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू द्वारा इसका शुभारंभ करने के बाद अपने संबोधन में सुझाव दिया कि आर्थिक उद्धार के लिए आजीविका के क्षेत्र में स्व-सहायता समूहों को मार्केटिंग एप्स से जोड़कर बहुराष्ट्रीय कंपनियों की सहायता से देश-विदेश में ग्रामीण और जनजातीय उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराया जा सकता है। उन्होंने बताया कि उनके गृह जिले गुना के स्व-सहायता समूह से जुड़ी एक महिला द्वारा बनाया गया झूला इतना सुंदर है कि दिल्ली में ही नहीं, बल्कि न्यूयार्क के बाजार में भी उसकी मांग है। मंत्री सिसोदिया ने मनरेगा योजना से फर्जी जॉब कार्ड की समस्या को दूर करने के लिए सुझाव दिया कि स्थानीय स्तर  पर व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से निगरानी की जाए जिससे योजना में पारदर्शिता आएगी।

पीएम आवास ग्रामीण में मिलने वाली राशि बढ़े
मंत्री सिसोदिया ने कहा कि सीमेंट एवं सरिये की बढ़ती कीमतों को देखते हुए पीएम आवास योजना (ग्रामीण) में मिलने वाली राशि को बढ़ाया जाए एवं छत की डिजाइन में भी बदलाव किया जाए। इससे ग्रामीण हितग्राहियों को लाभ होगा। मंत्री सिसोदिया ने आवास पोर्टल को पुन: चालू करने का भी आग्रह किया। इस कार्यक्रम में केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह, केन्द्रीय पंचायती राज राज्य मंत्री कपिल मोरेश्वर पाटिल सहित राज्यों के पंचायती राज मंत्री और वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button