Ken-Betwa project News : केन-बेतवा परियोजना बदलेगी बुंदेलखंड की तस्वीर – सीएम शिवराज

Ken-Betwa project News : सरकार ने बुंदेलखंड सहित मध्यप्रदेश की प्रगति में लगाये पंख लगा दिए। उन्होंने कहा कि केन-बेतबा लिंक परियोजना का काम अब जल्द होगा प्रारंभ।

Latest Ken-Betwa project News : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. मध्यप्रदेश में नवंबर अंत में विधानसभा चुनाव है। इससे पहले प्रदेश की सत्ता पर बैठी भाजपा की सरकार हर वर्ग को साधने में जुटी हुई है। इसी कड़ी में बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो संदेश जारी कर कहा कि केन-बेतवा लिंक परियोजना का सपना साकार हुआ। डबल इंजन की सरकार ने बुंदेलखंड सहित मध्यप्रदेश की प्रगति में लगाये पंख लगा दिए। उन्होंने कहा कि केन-बेतबा लिंक परियोजना का काम अब जल्द होगा प्रारंभ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड क्षेत्र में भूमि की सिंचाई क्षमता बढ़ेगी और क्षेत्र की तस्वीर बदलेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने कागजों में दबी परियोजना को जमीन पर साकार करने का काम किया है। केन-बेतवा लिंक परियोजना बुन्देलखण्ड क्षेत्र की जल सुरक्षा एवं सामाजिक आर्थिक विकास के लिये एक महत्वकांक्षी राष्ट्रीय परियोजना है।

मुख्यमंत्री ने कहा बुलंद बुदेलखंड करने की इस पहल से नॉन मानसून सीजन में मध्यप्रदेश को 1,834 मिलियन क्यूबिक मीटर (MCM) पानी मिलेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में प्रदेश की सिंचाई क्षमता 7 लाख 68 हजार हेक्टेयर से बढ़कर 47 लाख हेक्टेयर से अधिक से अधिक हो गई है। मुख्यमंत्री ने परियोजना के अंतर्गत बुन्देलखण्ड क्षेत्र में मध्यप्रदेश के छतरपुर, पन्ना, टीकमगढ़, निवाड़ी एवं दमोह तथा उत्तर प्रदेश के जिले बांदा, महोबा, झांसी एवं ललितपुर जिले लाभांन्वित होंगे।

उन्होंने बताया कि परियोजना से मध्यप्रदेश के बुन्देलखण्ड क्षेत्र में 283.85 लाख क्विंटल रबी फसल (गेहूं) की पैदावार में वृद्धि होगी। परियोजना से मध्यप्रदेश की 41 लाख आबादी एवं उत्तर प्रदेश की 21 लाख आबादी को पेयजल की सुविधा प्राप्त होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि परियोजना से प्रस्तावित पावर हाउस से कुल 103 मेगावाट जल विद्युत एवं 27 मेगावाट सौर ऊर्जा उत्पादन का प्रावधान है।

बता दें, 2018 के चुनाव में भाजपा को बुंदेलखंड में जबरदस्त सफलता मिली थी। क्षेत्र में 26 विधानसभा सीट है। इसमें से भाजपा 17 और सिर्फ 7 पर कांग्रेस चुनाव जीत पाई थी। वहीं, दो सीट अन्य ने जीती थी।

Related Articles

Back to top button