Khirkiya News : सरपंच के पत्र पर कलेक्टर ने कहा अतिक्रमण हटाएंगे

Khirkiya News : ग्राम पंचायत पड़वा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा अनुसार जितनी भी साथ की जमीन है उन स्थानों पर अमृत सरोवर तालाब का निर्माण किया जाए और उस स्थान पर स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडा वंदन किया जाए

ललित बथोले, उज्जवल प्रदेश, खिरकिया
Khirkiya News : जनपद पंचायत खिरकिया की ग्राम पंचायत पडवां के पड़वा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा अनुसार जितनी भी साथ की जमीन है उन स्थानों पर अमृत सरोवर तालाब का निर्माण किया जाए और उस स्थान पर स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडा वंदन किया जाए जिससे शासकीय जमीन है अतिक्रमण होने से बचेगी और अमृतसरोवर के निर्माण का रास्ता साफ होगा

जहां सरपंच व ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि भाजपा के नेता द्वारा लगातार अपनी ही सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली योजना के क्रियान्वयन में बाधा उत्पन्न की जा रही है जहां रोजगार गारंटी में मजदूरों को रोजगार दिया जा रहा है तो भाजपा नेता मजदूरों को काम नहीं करने दे रहा है इसके कारण मजदूरों को भी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है।

इस मामले को लेकर समाचार पत्रों में खबरें प्रकाशित होने के बाद कलेक्टर ने मामले को संज्ञान में लिया और स्थानीय अधिकारियों को तत्काल निर्देशित किया गया जिस स्थान पर अमृत सरोवर का महत्वपूर्ण कार्य चल रहा है उस स्थान पर जिसके द्वारा भी अतिक्रमण किया गया है

तो उस पर तत्काल FIR करा कर उस जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया जाए और पंचायत के आधीन करा कर मुझे स्पष्ट जानकारी जल्दी उपलब्ध कराएं कलेक्टर ऋषि गर्ग ने कहा है कि शासन की मंशा अनुसार अमृतसरोवर बनाया जाएगा जरूरत लगी तो अतिक्रमण कर्ता पर कानूनी कार्यवाही करवाई जाएगी

अपनी ही सरकार के खिलाफ भाजपा नेता

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की केंद्र सरकार द्वारा ग्राम पंचायतों में अमृतसरोवर आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में बनवाए जा रहे हैं अमृत सरोवर योजना का शुभारंभ देश के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा आजादी अमृत महोत्सव 24 अप्रैल 2022 को इस योजना को शुरू करने की औपचारिक घोषणा की थी

इस योजना के माध्यम से प्रत्येक राज्य के प्रत्येक जिले में 75 से अधिक तालाबों का निर्माण करवाया जाएगा जिससे कि गर्मी के समय में होने वाले भूजल की कमी को पूरा करने और सुंदर वातावरण बनाने के लिए यह योजना शुरू की गई थी

मिशन अमृतसरोवर के अंतर्गत प्रत्येक जिले में रिमोट सेंसिंग एवं जियो-स्पेशियल तकनीकों का उपयोग करते हुए तालाब निर्माण किया जाएगा कम से कम एक एकड़ में बनने वाले प्रत्येक तालाब की जलधारण क्षमता करीब दस हजार घनमीटर होगी

ऐसे जनहित के प्रोजेक्ट को एक भाजपा नेता द्वारा नही पूरा होने देना सोचने का विषय है देखना है कि प्रसासन कितना जल्द इस योजना को पूरा करवाता है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group