भू माफियाओं के हौसले बुलंद, वन विभाग की भूमि पर कर रहे कब्जा, मना करने पर मिली जान से मारने की धमकी

शहडोल
शिकायतकर्ता सुरेंद्र तिवारी पिता बिंदु राम तिवारी निवासी ग्राम नादान तहसील इछावर जिला सीहोर का है पीड़ित शिकायत करते हुए बताया कि 2010 से वन भूमि में शिकायतकर्ता का कब्जे में जमीन थी जब वन विभाग के द्वारा 2017 को भूमि में जेसीबी से गड्ढे कराए गए तथा पौधारोपण कराया गया यह भूमि नादान नाके से मात्र 500 मीटर की दूरी पर है जिस पर भू माफिया हीरालाल गोफनिया व उनके पुत्रों द्वारा उस जमीन पर ट्रैक्टर से समतलीकरण करते हुए कब्जा कर रहे हैं जिस पर पीड़ित सुरेंद्र तिवारी द्वारा मना करने पर शिव गोफनिया पिता हीरालाल गोफनिया द्वारा मारपीट करने के लिए उतारू होते हैं भू माफिया हीरालाल गोफनिया ज्योति नगर निगम भोपाल में कार्यरत हैं और उनके दो भाई पुलिस विभाग में भी हैं जिसके वजह से उनके हौसले और भी बुलंद है इसका यही कारण है कि साहब को सिर्फ जमीन में अवैध कब्जा करना है चाहे फिर वह जमीन फॉरेस्ट की हो या फिर नजूल की जबकि इनकी शिकायत इछावर थाना करने की कोशिश की गई पर शिकायत नहीं लिखी गई और शिकायतकर्ता के साथ भू माफियाओं द्वारा मारपीट की गई जिस पर शिकायतकर्ता सुरेंद्र तिवारी 181 में 6 जुलाई को शिकायत दर्ज कराई पर इन पर अत्याधिक सपोर्ट पहुंच होने के कारण इछावर थाने से इन पर किसी भी प्रकार का जांच कार्यवाही नहीं किया गया बल्कि शिकायतकर्ता को जब भू माफियाओं से डर कब है लगने लगा दो शिकायतकर्ता अपने पुश्तैनी भूमि जिला शहडोल सोहागपुर आ गया जिस पर भू माफियाओं द्वारा फोन लगाकर शिकायतकर्ता को धमकी दी कि तू नादान आकर दिखा मैं देखता हूं तू कैसे आता है जिसकी शिकायत शिकायतकर्ता ऑडियो सहित थाना सोहागपुर में दर्ज कराई अब देखना यह है कि भू माफिया जिला सीहोर का और शिकायतकर्ता जिला शहडोल में आखिरकार कब तक में इन पर होगी कार्यवाही।

Related Articles

Back to top button