डीएवीवी में एमए-एमएसडब्ल्यू और बीबीए-बीसीए की परीक्षा 10 मार्च से

इंदौर
 कोरोना संक्रमित होने के डर से जिन छात्र-छात्राओं ने जनवरी में आफलाइन सेमेस्टर परीक्षा नहीं दी है, उनके लिए देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) ने विशेष परीक्षा रखी है। 10 मार्च से स्नातकोत्तर और 12 मार्च से स्नातक पाठ्यक्रम के पेपर शुरू होंगे, जो मार्च अंतिम सप्ताह तक चलेगी। करीब दर्जनभर पाठ्यक्रम की परीक्षाओं का शेड्यूल जारी कर दिया है। परीक्षा में पांच हजार से ज्यादा छात्र-छात्राएं परीक्षा देंगे।

जनवरी-फरवरी के बीच इन पाठ्यक्रमों की परीक्षा में 35 हजार विद्यार्थी शामिल होने वाले थे, लेकिन कोरोना वायरस की तीसरी लहर के चलते कई विद्यार्थियों ने परीक्षा नहीं दी। उस समय कोर्ट ने भी आदेश दिया था कि यदि कोई विद्यार्थी कोरोना के कारण परीक्षा नहीं दे रहा है, तो उसे बाध्य नहीं किया जा सकता। अब ऐसे ही परीक्षार्थियों के लिए डीएवीवी यह परीक्षा आयोजित कर रहा है। विश्वविद्यालय ने करीब पांच हजार विद्यार्थियों के लिए विशेष परीक्षा रखी है। इसके तहत तीन सत्र में पेपर रखे गए है। 10 से 28 मार्च विभिन्न एमए, 10 से 16 मार्च एमएसडब्ल्यू , 12 से 25 मार्च तक एमबीए, 12 से 30 मार्च एमबीए हास्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन, 12 से 23 मार्च के बीच एमएससी कम्प्यूटर साइंस, 10 से 25 मार्च एमए तीसरे सेमेस्टर के पेपर होंगे। वहीं बीबीए, बीसीए की 12 से 30 मार्च के बीच परीक्षा होगी। इन दोनों पाठ्यक्रम में विद्यार्थियों की संख्या ज्यादा है। लगभग डेढ़ हजार छात्र-छात्राएं है।

Related Articles

Back to top button