Maa Tujhe Pranam Yojana 2022: 196 लाड़लियां वाघा बॉर्डर रवाना, मुख्यमंत्री ने किया संवाद

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मां तुझे प्रणाम योजना की दोबारा शुरुआत करते हुए प्रदेश की 196 लाड़ली लक्ष्मी बालिकाओं के साथ संवाद किया। उन्होंने इन बेटियों के सुखमय सफर की कामना करते हुए कहा कि आगे भी सरकार उनके लिए काम करती रहेगी। रवीन्द्र भवन से इन्हें रवाना करने के पहले सीएम चौहान ने कहा कि वर्ष 2013 से शुरू हुई योजना के बाद पहली बार एमपी के लाड़ली बेटियां वाघा बार्डर जा रही है। माँ तुझे प्रणाम योजना में सोमवार को प्रदेश की 196 लाड़ली लक्ष्मी बालिकाओं को अंतर्राष्ट्रीय सीमा वाघा-हुसैनीवाला (पंजाब) का भ्रमण कराने के लिए रवाना किया गया।

योजना में वाघा बार्डर जाने वाली लाड़ली लक्ष्मियों में भोपाल संभाग से 20, इंदौर संभाग से 31, ग्वालियर से 15, उज्जैन से 26, नर्मदापुरम से 11, शहडोल से 15, रीवा से 12, चम्बल से 9, सागर से 26 और जबलपुर संभाग से 31 लाड़ली लक्ष्मियाँ शामिल हैं। योजना में अब तक लगभग 12672 युवाओं को लेह-लद्दाख, कारगिल-द्रास, आरएसपुरा, वाघा-हुसैनीवाला, तानोत माता का मंदिर, लोगेंवाल, कोच्चि, बीकानेर, बाड़मेर, नाथूराम-दर्रा, पेट्रापोल, तुरा, जयगाँव, अडंमान निकोबार एवं कन्या कुमारी की अनुभव यात्रा कराई गई है।

 खेल एवं युवा कल्याण विभाग की ओर से इस योजना की चयनित बालिकाओं को गृह निवास यात्रा का किराया, दैनिक भत्ता, आवास, भोजन, स्थानीय यातायात व्यवस्था, रेल आरक्षण व्यवस्था, ट्रेक सूट, टी-शर्ट और किट बेग उपलब्ध कराए जाते हैं।

विदेश यात्रा और स्टार्टअप नीति की तैयारी समीक्षा
इसके पहले सीएम शिवराज ने इसी माह निवेशकों को न्यौता देने के लिए की जाने वाली विदेश यात्रा की तैयारियों की समीक्षा बैठक में व्यवस्थाओं की जानकारी ली। साथ ही इसी माह लांच की जाने वाली नई स्टार्ट अप पालिसी को लेकर भी उद्योग और एमएसएमई विभाग के अफसरों के साथ चर्चा की। सीएम आज धार दौरे पर जाएंगे।

Related Articles

Back to top button