सरकारी नौकरी लगवाने पर मंदसौर SI ने की 20 लाख की ठगी

भोपाल
मंदसौर जिले में पदस्थ एक महिला सब इंस्पेक्टर की करतूत से पुलिस मुख्यालय में हड़कंप मच गया है। दरअसल महिला उपनिरीक्षक ने वहां के कई लोगों को सरकारी नौकरी दिए जाने के नाम पर 20 लाख रुपए की ठगी कर ली है। पुलिस मुख्यालय को अंदेशा है कि यह गोरखधंधा मंदसौर से लेकर देवास तक फैला हुआ हो सकता है। पुलिस ने महिला उपनिरीक्षक पर प्रकरण दर्ज कर उसे निलंबित कर दिया है। हालांकि अभी उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

मंदसौर जिले के शामगढ़ थाना इलाके के भटुनि गांव निवासी रिंकेश पाटीदार की शिकायत पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है। इस मामले में सब इंस्पेक्टर के दोस्त तरुण शर्मा को भी आरोपी बनाया गया है। इन दोनों ने मिलकर पोस्ट आॅफिस और महिला बाल विकास में सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर रिंकेश से 20 लाख रुपए ले लिए थे। उसके बाद आरोपी महिला सब इंस्पेक्टर इंदु और उसके साथी तरुण शर्मा ने उनको नौकरी का ज्वाइंनिग लैटर भी दे दिया है, लेकिन जब वे वहां पर गए तब पता चला कि लैटर फर्जी हैं। तरुण देवास का रहने वाला है और पुलिस को आशंका है कि उसने इस तरह से कुछ और लोगों को भी ठगा होगा।

पुलिस के पास अब तक सात से आठ लोग ठगी का शिकार होने वाले पहंचे हैं। इधर पुलिस उपनिरीक्षक के इस मामले में शामिल होने के चलते पुलिस मुख्यालय भी सक्रिय हो गया है। पुलिस मुख्यालय के अफसरों ने इस संबंध में पूरी जानकारी मांगी है।

इनका कहना
सब इंस्पेक्टर को आरोपी बनाया गया है। पैसे के लेने देने के प्रमाण मिल गए हैं। उपनिरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है। फिलहाल गिरफ्तारी नहीं हुई है। इसमें और भी पीड़ित लोग पुलिस के सामने आए हैं।
अनुराग सुजानिया, एसपी मंदसौर

Related Articles

Back to top button