नापतौल विभाग ने चलाया सघन अभियान, 187 संस्थानों पर प्रकरण दर्ज

 

भोपाल

दीपावली त्यौहार के दौरान जमकर हो रही खरीददारी में ग्राहक गड़बड़ी करने वालों के हाथों लुटने से बचे इसके लिए नापतौल विभाग ने सघन अभियान चला रखा है। पिछले चौदह दिनों में प्रदेशभर में जांच के बाद गड़बड़ी करने वाले नामी गिरामी 187 संस्थानो के खिलाफ गड़बड़ी के प्रकरण दर्ज किए गए है। इनमें नामी ज्वेलर्स, ड्रायफ्रूट विक्रेता और अन्य डिब्बाबंद सामग्री बेचने वाले, मिष्ठान्न भंडार शामिल है।

त्यौहारों के दौरान खासतौर पर सोने-चांदी की ज्वेलरी, बर्तन की जमकर खरीदी होती है। इनके वजन में गड़बड़ी कर ग्राहकों को चूना लगाया जाता है। कीमती सोने-चांदी के ज्वेलरी में वजन कम होंने से ग्राहकों को भारी नुकसान उठाना पड़ता है। जो सघन जांच अभियान चल रहा है उसमें ज्लेलर्स और सराफा व्यापारियों के यहां जांंच दल देखता है कि उनके नापतौल करने वाले बांट, माप, तराजू, बांट सही काम कर रहे है या नहीं। हर साल तोल कांटे और बांटों का सत्यापन कराना जरुरी होता है। जांच के दौरान यह भी देखा जा रहा है। भोपाल-इंदौर में व्यापक पैमाने पर जांच में यह पाया गया कि सराफा व्यापारियों ने एक से तीन साल तक तोल कांटे और बांटों का सत्यापन कराकर प्रमाणपत्र ही नहीं लिए है।ज्वेलरीसही है या नहीं ययह भी देखा जा रहा है। ग्राहकों के सामने मानक बांटों से तोलकांटे और अन्य बांटों की जांच की जाती है। वेरीफिकेशन करवाने के बाद प्रमाणपत्र रखा है या नहीं। यदि किसी ग्राहक को संदेह है तो उसे दूर करने के लिए सत्यापित माप, बांट का इंतजाम है या नहीं यह भ्ज्ञी देखा जा रहा है। कांटे की एक्यूरेसी है या नहीं यह भी देखा जा रहा है। शॉपिंग मॉल्स, किराना दुकानों और मिष्ठान्न विक्रेताओं के यहां यह देखा जा रहा है कि बारकोडिंग में सारी घोषणाएं डिब्बाबंद वस्तुओं पर है या नहीं।  उसका वजन, निर्माण की तिथि, कस्टमर केयर नंबर, कब तक उपयोग किया जा सकता है इसका ब्यौरा उस पर होना चाहिए। इसके अलावा डिब्बे सहित तो मिठाई नहीं तौली जा रही है यह भी देखा जा रहा है।

बड़े ज्वेलर्स और रिलायंस रिटेल शॉप पर प्रकरण दर्ज
भोपाल में  श्रीजी ज्वेलर्स और तनुश्री ज्वेलर्स के यहां कार्यवाही की गई है। यहां व्यापारियों ने पिछले एक से तीन साल से ज्वेलरी का माप करने वाले तौलकांटो और बांटों का नापतौल विभाग से सत्यापन नहीं कराया है और उन्हीं तौल कांटो और बांटों से ज्वेलरी तौल कर ग्राहकों को दे रहे है। इनके खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिए गए है। सुनवाई के बाद इनपर भारी जुर्माना लगाया जाएगा। इंदौर में नाना भाई ज्वेलर्स, झांझरिया ज्वेलर्स, पंजाबी सराफा और  शुभम ज्वेलर्स के यहां गड़बड़ी मिलने पर प्रकरण दर्ज किया गया है। खंडवा में दियाना ज्वेलर्स, सागर में नीते ज्वेलर्स  दमोह के यहां गड़बड़ी मिलने पर प्रकरण दर्ज किए गए है।

Related Articles

Back to top button