भ्रष्टाचार का गढ़ बना जरियारी नाली सफाई के नाम पर पैसा निकाल कर किया गया दुरुपयोग

अमरपाटन
नाली सफाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति सचिव उपेंद्र सिंह और सरपंच ललिता बौद्ध के द्वारा किया जा रहा है।पैसा तो निकाल लिया गया नाली सफाई के नाम पर मगर नाली कहीं भी साफ नहीं दिख रही। मैहर जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत जरियारी में कुछ समय पहले सरपंच ललिता बौद्ध स्वच्छता को लेकर दावे करती थी।  आज सफाई  के नाम पर कुछ भी नहीं कीया जा रहा है। सिर्फ सरपंच और सचिव दोनों अपनी जेब भरने में जुटे हुए हैं।  

बेचारे हितग्राही बरसात में घर में रहना मुश्किल हो रहा है। क्योंकि नाली का पानी घर के अंदर घुस रहा है इसके वजह से हितग्राही घर-घर परेशान हो रहे हैं सरपंच ललिता बौद्ध सचिव उपेंद्र सिंह के द्वारा कोई भी कार्य नहीं किया जा रहा। सचिव उपेंद्र सिंह और सरपंच ललिता बौद्ध  ग्राम पंचायत से आए दिन नदारद रहते हैं।  और सरपंच जब से निर्वाचित हुई हैं अभी तक ग्राम पंचायत में नहीं आई हैं। ऐसे में ग्राम पंचायत के हितग्राही कहां जाएं अपनी समस्या को लेकर इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में भी की गई है। अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। ऐसे में शासन प्रशासन क्या कार्यवाही करता है देखने वाली बात है।

Related Articles

Back to top button