त्रिवेणी संयोग में मनी रामनवमी, मंदिरों से लेकर सोशल साइट तक छाये रहे प्रभु श्रीराम

खरगोन
रवि पुष्य योग, सर्वार्थसिद्धि योग और रवि योग के निर्माण से त्रिवेणी संयोग में चैत्र नवमी पर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का जन्मोत्सव शहर सहित समूचे अंचल में धूमधाम से मनाया गया। जीवन की मर्यादा सीखाने वाले मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का प्रकटोत्सव मंदिरों से लेकर सोशल साइट तक छाया रहा। जहां मंदिरों में पूजा-अर्चना के साथ रामलला की झलक पाने के लिए श्रद्धालुओं की अपार भीड़ रही वहीं युवाओं में लोकप्रिय हो चुकी सोशल साइट पर प्रभू श्रीराम के जन्मोत्सव की बधाईयों का दौर चलता रहा। सुबह से ही मंदिरों में सुंदरकांड पाठ, विशेष पूजा-अर्चना, हवन, अभिषेक आदि का दौर शुरू हुआ जो दोपहर तक चलता रहा और 12 बजते ही प्रभु के प्राकट्य को लेकर बधाईयों का दौर शुरू हुआ। जयश्रीराम और श्रीरामचंद्र कृपालू भजनम, श्रीराम-राम रघुनंदन, राम-राम के जयकारों के साथ समूचा माहौल धर्ममय हो गया।

रघुवंशी चौक से निकली शोभायात्रा
 पहाड़सिंगपुरा कलश चौक स्थित श्रीराम मंदिर शहर से रघुवंशी समाज द्वारा श्रीराम जन्मोत्सव पर भव्य शोभायात्रा निकाली गई। ढोल-तांशे, डीजे पर बज रहे धार्मिक गीतों से माहौल भक्तिमय हो गया। श्रद्धालु झूमते-गाते हुए श्रीराम की भक्ति में लीन रहे। शोभायात्रा परंपरागत मार्गो से होते हुए श्रीराम मंदिर पहुंची जहां प्रभु प्राकट्योत्सव पर भगवान श्रीराम की महाआरती व प्रसादी के बाद शोभायात्रा का समापन किया गया। शोभायात्रा में श्रीराम, लक्ष्मण, हनुमानजी की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। शोभायात्रा के दौरान जगह. जगह जलपान एवं पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया।

 मेहरजा में हुआ यज्ञ
वृक्षतीर्थ मेहरजा में गायत्री परिवार द्वारा चैत्र नवरात्रि पर लोक कल्याण की कामना को लेकर महायज्ञ किया गया, इसमें पूर्व मंत्री बालकृष्ण पाटीदार ने शामिल होकर पूर्णाहुति डाली। पंडित श्रीराम शर्मा ने अनुष्ठान संपन्न कराया। इस दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालू मौजूद रहे।    

Related Articles

Back to top button