कड़ाके की ठंड से ठिठुर रही MP, अगले 72 घंटे तक और कंपाएगी सर्दी, जानें आज की Weather रिपोर्ट

MP Weather News: मध्यप्रदेश में शीतलहर के साथ कंपकपाने वाली ठंड पड़ रही है. तापमान में लगातार हो रही गिरावट से मौसम सर्द बना हुआ है. इसके चलते भोपाल सहित चार संभाग और 16 जिलों में मौसम विभाग ने कोहरे का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

MP Weather Today: भोपाल. ग्वालियर में ठंड ने 10 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है. वहीं सर्द मौसम के चलते प्रदेश के कई जिलों में स्कूलों की छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं. इसके साथ ही बढ़ती ठंड से घने कोहरे के कारण सड़कों पर विजिबिलिटी कम है. ट्रेनें भी देरी से चल रही हैं.

भोपाल सहित पूरा मध्यप्रदेश शीतलहर की चपेट में है. कड़ाके की सर्दी अपना कहर बरपा रही है. राजधानी समेत 12 शहरों में कोल्ड डे रहा तो बैतूल, जबलपुर, मंडला और धार में सीवियर कोल्ड डे रहा. मौसम विभाग ने भोपाल सहित 4 संभाग और 16 जिलों में घने कोहरे का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. आने वाले 72 घंटे तक सर्दी और ज्यादा कंपकंपाने वाली रहेगी. कई शहरों में आज मावठा गिरने के भी आसार हैं.

2.8 डिग्री न्यूनतम तापमान के साथ नौगांव (छतरपुर) सबसे ठंडा रहा। दतिया, खजुराहो, ग्वालियर में रात का पारा 4 डिग्री और इससे नीचे रिकॉर्ड हुआ। प्रदेश के 7 शहरों को छोड़ बाकी सभी में 10 डिग्री से नीचे तापमान रहा है।

प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में गीली और बर्फीली ठंड पड़ रही है। मौसम विशेषज्ञ एके शुक्ला के मुताबिक उत्तरी इलाकों से हवा के साथ कोहरा आ रहा है। इस कोहरे में पानी की बूंदें भी हैं। तेज हवा के कारण ये पेड़, पौधों, वाहनों या घास पर गिर रही हैं। खेतों में गेहूं ओर चने की फसल लगी है। इनकी सिंचाई के कारण ठंडक और बढ़ रही है। इसी वजह से दिन में भी ज्यादा ठंडक बनी हुई है।

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 2 दिन छिंदवाड़ा, बालाघाट, सिवनी, मंडला और बैतूल में मावठा गिर सकता है। भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर और उज्जैन में बादल रह सकते हैं। हल्की बूंदाबांदी के भी आसार हैं।

मौसम विभाग का कहना है प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में गीली और बर्फीली ठंड पड़ रही है. उत्तरी इलाकों से हवा के साथ कोहरा आ रहा है, इसी कोहरे में पानी की बूंदे भी हैं. तेज हवा के कारण पानी की बूंदें पेड़-पौधों, वाहन और घास पर गिर रही हैं. इसी वजह से रात के साथ-साथ दिन में भी ठंडक बनी हुई है. आने वाले 72 घंटों में और तापमान में ज्यादा गिरावट दर्ज होने के आसार हैं. तापमान में गिरावट होने से आगामी 72 घंटों में सर्दी और ज्यादा कंपकंपाने वाली होगी.

4 शहरों में रहा सीवियर कोल्ड डे

हाड़ कंपाने पाने वाली सर्दी के साथ चार शहरों में सीवियर कोल्ड डे तो भोपाल सहित 12 शहरों में कोल्ड डे रहा. बैतूल, जबलपुर, मंडला, धार में सीवियर कोल्ड डे रहा. भोपाल, शिवपुरी, उज्जैन, रतलाम, गुना, छिंदवाड़ा, छतरपुर, नरसिंहपुर, रीवा, सागर, उमरिया, सिवनी शहरों में कोल्ड डे रिकॉर्ड हुआ. मौसम विभाग ने कई जगहों पर मावठा गिरने की संभावना भी जताई है. गुरुवार को भोपाल, नर्मदापुरम, रीवा, सागर, चंबल संभागों के साथ 16 जिलों में घने कोहरे का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

ग्वालियर में ठंड ने 10 साल का रिकॉर्ड तोड़ा

मध्यप्रदेश में चल रही शीतलहर के चलते मौसम बेहद सर्द बना हुआ है. ठंड से बचने के लिए लोग अलाव का सहार ले रहे हैं. प्रदेश के कई जिलों में सर्द मौसम के कारण स्कूलों में छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं. कई इलाकों को बढ़ती ठंड ने कोहरे की चादर से ढ़ंक दिया है. इससे इलाकों में बिजिविलिटी कम हो गई है. ग्वालियर के चंबल में सर्दी ने 10 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है. यहां जनवरी महीने में लगातार तीसरे दिन भी कोल्ड डे रहा है. सड़कों पर बिजिविलिटी 10 मीटर से भी कम है. इसके साथ ही साथ उत्तर भारत से आने वाली सभी ट्रेनें 6 से 8 घंटा देरी से चल रही हैं.

7 जनवरी से नया सिस्टम एक्टिव होगा

मौसम विभाग के अनुसार 7 जनवरी से नया सिस्टम एक्टिव होगा। पश्चिमी हवाएं ईरान, ईराक से अफगानिस्तान से पाकिस्तान के रास्ते भारत के उत्तरी इलाकों में प्रवेश करेंगी। यहां से नमी भरी ठंडी हवाएं मैदानी इलाकों में आएंगी। इसके कारण 7 और 8 जनवरी को बादल छाने से दिन और रात के तापमान में हल्की बढ़ोतरी हो सकती है। हालांकि, ज्यादा बढ़ोतरी नहीं होगी। इनके जाते ही तेजी से तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी।

दिन के तापमान में भी खासी गिरावट

रात में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। दिन में भी मौसम सर्द है और लोगों को परेशानी हो रही है। मौसम विभाग की मानें तो ग्वालियर में दिल्ली की तरह रात की सर्दी है। पिछली दो रातों से ग्वालियर सबसे ठंडा है। कई शहरों में दिन का तापमान 22 डिग्री या इससे नीचे पहुंच गया है।

मौसम विभाग के अनुसार, तेज हवाएं चलने के कारण दिन-रात के तापमान में गिरावट हुई है। शाम से ही तेज हवा चलने लगती है। इससे लोग ठिठुर जाते हैं। वर्तमान में कई शहरों में तेज हवा 18 से 20 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चल रही है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group