MP News : हर परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार दिया जाएगा : मुख्यमंत्री चौहान

MP News : जितनी कठिनाई जिंदगी में होगी सब दूर करूंगा। हर परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार दिया जाएगा ताकि पलायन न करना पड़े। चाहे स्व-सहायता समूहों के माध्यम से, उदयम क्रांति योजना या सरकारी नौकरियों के माध्यम से हो हर परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार दिया जायेगा।

  • अलीराजपुर में कृषि महाविद्यालय खोला जाएगा
  • 905.46 करोड़ रुपए की माइक्रो उद्धवहन सिंचाई परियोजना का लोकार्पण

Latest MP News : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जितनी कठिनाई जिंदगी में होगी सब दूर करूंगा। हर परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार दिया जाएगा ताकि पलायन न करना पड़े। चाहे स्व-सहायता समूहों के माध्यम से, उदयम क्रांति योजना या सरकारी नौकरियों के माध्यम से हो हर परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अलीराजपुर में कृषि महाविद्यालय खोला जाएगा। जिले के सभी गांवों और खेतों में सिंचाई का पानी पहुँचाया जाएगा। अलीराजपुर में बायपास रोड बनाया जाएगा। बिजली का सब स्टेशन भी बनवाएंगे। मुख्यमंत्री चौहान अलीराजपुर में 905.46 करोड़ रुपए की माइक्रो उद्धवहन सिंचाई परियोजना का लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर क्षेत्रीय सांसद और जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि नर्मदा मैया का पानी खेतों में लेकर आया हूँ। पानी आने से खेतों में फसलें लहलहाएंगी। परियोजना से अभी 126 गांवों में सिंचाई हो रही है। आगे चलकर जिले सभी गांवों और खेतों में पानी पहुँचा दिया जाएगा। पाइपलाइन बिछाकर घरों में टोंटी से पानी उपलब्ध कराया जाएगा। नर्मदा का पानी ग्रामीणों की जिंदगी बदलेगा। किसानों को एक हजार रुपए हर महीना मिल रहा है। पीएम सम्मान निधि में 6 हजार रुपए और इतने ही रुपए राज्य सरकार दे रही है।

सरकार नहीं परिवार चला रहे हैं

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार ने अलीराजपुर को जिला बनाया है, साथ ही सड़क, बिजली, स्कूल-कॉलेज की व्यवस्था की है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मैं सरकार नहीं परिवार चला रहा हूँ। मैं बहनों का भाई, बेटा-बेटियों का मामा हूँ। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि परिवार के लिए जो करना चाहिए वह करने की कोशिश करता रहूँगा। मैं बहनों की तकलीफें दूर कर दूंगा। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना बनाकर हर महीने पैसे डाले जा रहे हैं। लाड़ली बहनों को एक हजार रुपए से शुरू की गई योजना में बढ़ाकर 3 हजार रुपए हर महीने दिए जाएंगे। वर्तमान में 250 रुपए बढ़ाकर 1250 रुपए हर माह कर दिए गए हैं। मैंने पैसा नहीं दिया बहनों को सम्मान दिया है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना और प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की हितग्राही बहनों को अब सिलेंडर 450 रुपए में दिया जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जिन लाड़ली बहनों के नाम गैस कनेक्शन नहीं हैं उनके नाम कनेक्शन नामांतरण किया जाए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि पैसा इज्जत बढ़ाता है और जरूरतें पूरी करता है। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना से बहनों का घर-परिवार सहित समाज में मान सम्मान बढ़ा है। यह योजना बहनों की जिंदगी बदलने का अभियान है। बहनों का दुख-दर्द दूर करने के लिए निरंतर प्रयास करता रहूँगा। इलाज की समुचित व्यवस्थाएँ की जा रही हैं। आयुष्मान कार्ड के माध्यम से नि:शुल्क उपचार हो रहा है।

जनता की सेवा के लिये पैसों की कमी नही

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि नि:शुल्क राशन के साथ आवास की व्यवस्था कर रहे हैं। जिनको पीएम आवास नहीं मिले हैं उनके लिए सीएम लाड़ली बहना आवास योजना में मकान राज्य सरकार बनाकर देगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि बिजली बिलों में राहत मिलेगी। अब वृद्ध तीर्थ-यात्रियों को रेल के साथ हवाई जहाज से तीर्थ यात्रा कराई जा रही है। राज्य सरकार के पास जनता की सेवा करने के लिए पैसे की कमी नहीं है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अपने स्कूल की 12वीं कक्षा में प्रथम आने वाले तीन-तीन बेटे-बेटी को स्कूटी दी जाएगी। छात्र-छात्राओं को लेपटॉप, साइकिल, गणवेश, पुस्तकें उपलब्ध कराने के साथ-साथ मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज, आईआईटी की फीस राज्य सरकार द्वारा भरी जा रही है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार ने सीएम राइज स्कूल खोले हैं। भांजे-भांजियों की अच्छी पढ़ाई के लिए उन्हें प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। मैं हर बच्चे की चिंता कर रहा हूँ। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

अलीराजपुर माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना

905.46 करोड़ लागत की अलीराजपुर माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना से अलीराजपुर जिले की अलीराजपुर तहसील के 63 गांवों की 27,951 हेक्टेयर, सोंडवा तहसील के 17 ग्रामों की 5,172 हेक्टेयर, जोबट तहसील के 3 ग्रामों की 924 हेक्टेयर एवं कट्ठीवाड़ा तहसील के 2 ग्रामों की 953 हेक्टेयर यथा कुल 35,000 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई करने का लक्ष्य रखा जाकर नर्मदा जल को उक्त खेतों तक पहुंचाया जा रहा है।

अलीराजपुर माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना से अलीराजपुर जिले के दूरस्थ ग्रामों के खेतों तक पानी पहुँचाया जा रहा है। इस परियोजना से 35,000 हेक्टेयर सी.सी.ए. में सिंचाई का प्रावधान हैं। नर्मदा नदी के दाएं तट पर स्थित ग्राम झंडाना के समीप हथनी नदी से 12.60 क्यूमेक्स के डिस्चार्ज को पम्प प्रेशर पाइप लाइन एवं तीन पम्प हाउस के माध्यम से अलीराजपुर जिले के 85 ग्रामों में सिंचाई हेतु पानी की उपलब्धता सुनिष्चित की गई है। परियोजना अंतर्गत कुल विद्युत खपत 35.49 मेगावाट है।

 

Related Articles

Back to top button