नर्सिंग काॅलेज कागजों में हो रहा संचालन, छात्रों के भविष्य के साथ खुलेआम खिलवाड़

सीधी
छात्रों को बेहतर शिक्षा का लालच दिखाकर लूटने वाले नर्सिंग काॅलेज संचालक की जांच के दौरान पोल खुल गई। नर्सिंग काॅलेज संचालक कागजों में इनका संचालन कर छात्रों के भविष्य के साथ खुलेआम खिलवाड़ कर रहे थे। जिसको संज्ञान लेते हुए संचालक चिकित्सा शिक्षा भोपाल ने 2 सदस्यीय टीम का गठन कर जांच के लिए भेजा था।

 जिले में सीधी कॉलेज ऑफ नर्सिंग का निरीक्षण संचालक चिकित्सा शिक्षा ने डॉ. रवींद्र कुमार विश्नोई, पीएसएम विभाग नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर और प्रतिभा सिंह लोधी नर्सिंग ऑफिसर नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर के नेतृत्व में टीम का गठन किया था। साथ ही निर्देशित किया था कि इन नर्सिंग संस्थाओं का निरीक्षण कर रिपोर्ट शीघ्र नर्सिंग काउंसिल कार्यालय में स्वयं उपस्थित होकर जमा कराएं।

निरीक्षण टीमों के आने की भनक पाकर नर्सिंग काॅलेज संचालकों ने बाहर बोर्ड तो टांग दिए गए थे, लेकिन छात्रों और भवनों की व्यवस्था नहीं कर पाए। यहां तक की पड़ोसियों को भी बुधवार को पता चला कि यहां नर्सिंग काॅलेज चलता है।

नायब तहसीलदार दीपेंद्र तिवारी ने बताया कि टीम कुसमी पहुंची और सीधी नर्सिंग काॅलेज की जांच की गई, जहां कई गड़बड़ी पाई गई। नर्सिंग काॅलेज कि न तो बिल्डिंग है न ही स्टाफ है, और न ही बच्चे हैं। यहां पर बिना बिल्डिंग और छात्रों के सिर्फ कागजों में संचालन किया जा रहा था। जिसकी टीम ने जांच की है और उसका प्रतिवेदन संचालक चिकित्सा शिक्षा को सौंपे जाएंगे।

Related Articles

Back to top button