Khirkiya News: जल जीवन मिशन योजना में किया घटिया काम, पानी की बूंद-बूंद को तरसे ग्रामीण

Khirkiya News: ग्राम पंचायत नगांवा माल में नल जल योजना में ठेकेदारों द्वारा एस्टीमेट के अनुसार काम नहीं करने का मामला सामने आया है। सरपंच व ग्रमीणों का आरोप है कि नल जल योजना में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार किया जा रहा है।

  • कलेक्टर को की शिकायत फिर भी नही हुआ काम: सरपंच

ललित बाथोले, खिरकिया
Khirkiya News: ग्राम पंचायत नगांवा माल में नल जल योजना में ठेकेदारों द्वारा एस्टीमेट के अनुसार काम नहीं करने का मामला सामने आया है। सरपंच व ग्रमीणों का आरोप है कि नल जल योजना में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। जिसमे ठेकेदार द्वारा एस्टीमेट के आधार पर कोई कार्य नहीं किया गया है और जल्द से जल्द काम पूरा करके भागने की फिराक में है।

ग्रामीणों ने बताया कि पूर्व में भी ठेकेदार को ग्रामीणों ने कई बार मौखिक निवेदन किया था कि जहां-जहां पक्की सड़क फोड़ी गई है। उसे ठीक कराया जाए व पीने योग्य पानी की व्यवस्था की जाए मगर वही चेम्बर खुले पड़े हैं। बारिश में उनमें पानी के साथ-साथ कीचड़ भर गया है। ग्रामीणों द्वारा बार – बार बोलने पर भी चैम्बर के ढक्कन से बन्द नहीं किये गए है।

कलेक्टर से की शिकायत नतीजा सिफर

ग्रामीणों ने बताया अप्रैल माह में कलेक्टर द्वारा गाँव में चौपाल का आयोजन किया गया था। वहां लोगों ने नल में पानी नही आने की शिकायत की थी। कलेक्टर साहब ने तुरंत पीएचई के इंजीनियर धुर्वे को बुलाकर कारण पूछा तो धुर्वे ने कहा दो दिन में पानी शुरू हो जाएगा, लेकिन 4 माह बाद भी पानी नही आ रहा है।

पक्की नालियां व सड़क तोड़कर नहीं की रिपेयर

जब ग्रामीणों ने कहा कि पक्की नालियों व सड़कों को तोड़कर पाइपलाइन डाली, लेकिन उसे पहले की तरह रिपेयर नही किया जिस कारण सड़क पूरी तरह बर्बाद हो गई। घरों के पास गंदगी का अंबार लग गया है। ग्रामीण एडवोकेट कृपाशंकर सारण, ग्यारसराम, धनराज मिश्रा, मिश्री बाई दुबे, मोतीलाल माणिक ने बताया हमारे घर के पास पक्की सड़क बनी हुई थी, लेकिन ठेकेदार ने उसे तोड़ दिया और वापस बनाकर भी नही गए। अब कीचड़ हो गया है जिसमे मच्छर पैदा हो रहे हैं।

यह योजना पीएचई विभाग के द्वारा की जाती है मानिटरिंग

यह योजना पीएचई विभाग के द्वारा मानिटरिंग की जाती है, लेकिन विभाग के अधिकारियों के द्वारा निरक्षन करने या काम को ढंग से नही करवाना ठेकेदार पर मेहरबानी दर्शाता है। ग्रामीणों का कहना है कि अब जबतक ठेकेदार द्वारा एस्टीमेट की फोटोकॉपी ग्राम पंचायत सचिव को नही दी जाती तब तक काम शुरू नही करने दिया जाएगा। आम लोगों के टेक्स से आम लोगों के लिए चलाई जाने वाली योजना में बंदरबांट नही होने दी जाएगी। ग्रामीणों में आक्रोश देखा जा रहा है पाइपलाइन का निरीक्षण करते समय ग्रामीणों के साथ सरपंच एनपी प्रजापति, सचिव धनसिंह भी मौजूद रहे।

एक गाँव में दो योजना स्वीकृत, लेकिन पानी बून्द भर नहीं

सरपंच का कहना है कि नगांवा माल व नगांवा सर्कुलर नामक एक ही गांव के दो हल्के है। जिनमे नगांवा माल में 1 करोड़ 96 लाख की योजना व नगांवा सर्कुलर में 25 लाख 60 हजार रुपये की नल जल योजना स्वीकृत हुई है। एक ही गांव में लगभग सवा दो करोड़ की योजना की स्वीकृति हुई। परन्तु ग्रामीणों को एक बूंद पानी नही मिल रहा है। आज भी नगांवा के लोग हाथो में डिब्बे लिए दूर से पानी लाते दिखाई देते हैं।

भगवती कंट्रक्शन को दिया है ठेका

भगवती कंट्रक्शन जिले की जानी मानी फर्म है, लेकिन पिछले दिनों नल जल योजना में लापरवाही व घटिया काम करने पर कलेक्टर ऋषि गर्ग ने 20 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था। वही भगवती कंट्रक्शन तहसील में कईं गांवो में काम कर रही है और सारे काम घटिया क्वालिटी के किये जा रहे है।

Related Articles

Back to top button