‘आयुष क्योर एप’ का किया जाए समुचित प्रचार-प्रसार : आयुष राज्य मंत्री कावरे

भोपाल

आयुष राज्यमंत्री रामकिशोर कावरे ने कहा है कि, ‘आयुष क्योर एप’ आयुष चिकित्सा के लिए बहुत उपयोगी है। इसका समुचित प्रचार प्रसार किया जाए। लोगों को बताया जाए कि आयुष क्योर ऐप कैसे काम करता है और इसे कैसे इस्तेमाल किया जाता है। आयुष विभाग के पास लगभग 700 योग प्रशिक्षक उपलब्ध है, जो योग के साथ साथ आयुष क्योर एप का भी प्रचार-प्रसार कर सकते हैं। सभी जिला आयुष अधिकारी इलाज के लिए आने वाले मरीजों को भी आयुष क्योर ऐप के बारे में जानकारी दें। कावरे ने निर्देश दिए कि आयुष चिकित्सा अधिकारियों के लिए सप्ताह में एक दिन तय कर दें, जिस दिन वे आंगनवाड़ी केन्द्रों में जाएं अपनी सेवाएं दें।

विधानसभा के समिति कक्ष क्रमांक 7 में आज आयुष विभाग परामर्श दात्री समिति की बैठक संपन्न हुई। समिति के सदस्य विधायक जालम सिंह पटेल एवं विधायक विजय रेवनाथ चौरे सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में विभाग के कार्यों एवं योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई।

समिति के सदस्य एवं विधायक जालम सिंह पटेल ने कहा कि, कोरोना महामारी के दौरान आयुष विभाग ने मोर्चा संभाला और त्रिकटु चूर्ण व आरोग्य कसायम से लोगों का जीवन बचाया है। आयुर्वेद पद्धति से इलाज का प्रचार-प्रसार कैसे हो इस पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए। विधायक विजय रेवनाथ चौरे ने कहा कि आयुर्वेद अस्पतालों में चिकित्सकों की कमी है। यहाँ चिकित्सकों की पूर्ति की जानी चाहिए।

प्रमुख सचिव प्रतीक हजेला ने आयुष विभाग के कार्यों एवं योजनाओं के संबंध में अवगत कराया। हजेला ने कहा कि विभाग द्वारा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर्स पर प्रशिक्षकों द्वारा योग कराया गया। साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की मंशा के अनुरूप देश व प्रदेश के 75-75 चिन्हित स्थानों पर योग कार्यक्रम आयोजित किए गए। अब हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर्स के साथ-साथ स्कूलों में भी विद्यार्थियों को योग का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। विभाग की आयुष आपके द्वार, आयुष क्योर एप एवं देवारण्य योजना को लेकर भी विभाग बेहतर कार्य कर रहा है और गांव-गांव तक इन योजनाओं का लाभ पहुंचाया जा रहा है।

 

Related Articles

Back to top button