नहीं हुआ रतलाम मेयर उम्मीदवार का ऐलान, मयंक, प्रभु और राजीव का फैसला दो-तीन दिन बाद

भोपाल
कांग्रेस ने नगर निगम के महापौर उम्मीदवार को लेकर रतलाम में पेंच फंस गया है। इसके चलते गुरुवार को कांग्रेस ने रतलाम को छोड़कर बाकी सभी 15 जगहों पर महापौर के उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। यहां पर कांग्रेस से तीन प्रमुख दावेदार सामने आए हैं। इसमें एक भूरिया समर्थक हैं, जबकि एक दावेदार शहर अध्यक्ष के समर्थक बताए जाते हैं, जबकि तीसरा नाम कमलनाथ के सर्वे में सामने आया है।

रात में उम्मीदवार का ऐलान करने की तैयारी थी, इस पर विचार भी हुआ जिसमें यह पता चला कि एक दावेदार का कोई मामला अदालत से जुड़ा हुआ है। इसलिए कुछ दिन के लिए यहां पर उम्मीदवार के ऐलान को टाल दिया गया। यहां से फैय्याज मंसूरी ने भी दावेदारी पेश की थी, लेकिन बुरहानपुर से एक मुस्लिम महिला को टिकट मिल जाने से उनकी दावेदारी अब कमजोर पड़ गई है। रतलाम महापौर के टिकट के लिए जिला अध्यक्ष एवं विधायक हर्ष गेहलोत और आलोट विधायक मनोज चावला भी भोपाल में सक्रिय हैं।

कमलनाथ के सर्वे से रुका ऐलान
गुरुवार को ही रतलाम महापौर का ऐलान किया जाना था, लेकिन प्रत्याशियों का ऐलान होने से पहले रतलाम के शहर अध्यक्ष महेंद्र कटारिया अ‍ौर जिला प्रभारी अमिताभ मंडलोई ने प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ से मुलाकात की। इन दोनों नेताओं की मुलाकात से पहले प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने भी अपने समर्थक का यहां से नाम आगे बढ़ा दिया। वे यहां से प्रभु राठौर को टिकट दिलवाना चाहते हैं। जबकि यहां से दो प्रमुख नाम पहले से ही कमलनाथ के पास थे। इनमें से मयंक जाट और राजीव रावत का नाम है। जिला शहर अध्यक्ष महेंद्र कटारिया यहां से मयंक जाट को उम्मीदवार बनवाना चाहते हैं। जबकि कमलनाथ के सर्वे में राजीव रावत का नाम सामने आया है।

Related Articles

Back to top button