सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों का लेवल एक में ही करें निराकरण – श्री मीणा

रीवा
कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित साप्तहिक समीक्षा बैठक में आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा ने सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी अधिकारी सीएम हेल्पलाइन के प्रकरण लेवल एक में ही अटेंड करके उसका निराकरण करें। प्रकरण बिना किसी कार्यवाही के यदि लेबल दो में जाएगा तो लेवल एक अधिकारी पर कार्यवाही की जाएगी। कई अधिकारी लेबल एक पर प्रकरणों में कार्यवाही नहीं कर रहे हैं। ऐसी लापरवाही सहन नहीं की जाएगी।
    
आयुक्त नगर निगम ने कहा कि कई विभाग पिछले चार महीनों से सीएम हेल्पलाइन के निराकरण में डी ग्रेड में बने हुए हैं। इनके द्वारा प्रकरणों के निराकरण में रूचि नहीं ली जा रही है। आयुक्त नगर निगम ने जिला सांख्यिकी अधिकारी को एक वेतन वृद्धि बंद करने का नोटिस देने तथा एक दिन की सेवा बाधित करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य नगर पालिका अधिकारी मऊगंज, नईगढ़ी तथा सेमरिया को भी सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण में लापरवाही बरतने पर वेतन रोकने का नोटिस देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग, खाद्य विभाग, आदिम जाति कल्याण विभाग, लोक निर्माण विभाग, पिछड़ावर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, स्वास्थ्य विभाग तथा स्कूल शिक्षा विभाग की ग्रेडिंग लगातार खराब है। संबंधित अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस दें।
    
बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े ने कहा कि सभी अधिकारी सीएम हेल्पलाइन के प्रकरण लेवल एक में अनिवार्य रूप से अटेंड करें। मांग संबंधी आवेदन पत्रों को फोर्स क्लोज करने की कार्यवाही करें। अधिकारी जब तक स्वयं प्रकरणों पर कार्यवाही नहीं करेंगे तब तक आवेदन पत्रों की संख्या बढ़ती रहेगी। सभी अधिकारी 50 दिन से अधिक समय से लंबित आवेदनों के निराकरण पर विशेष ध्यान दें। बैठक में वर्षा की स्थिति, खाद एवं बीज की उपलब्धता तथा वितरण की भी समीक्षा की गई। बैठक में डिप्टी कलेक्टर संजीव पाण्डेय तथा सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button