सचिन बिरला विधायक बने रहेंगे ,कांग्रेस को बड़ा झटका

भोपाल
 आगामी चुनावों से पहले एमपी कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम  ने बड़वाह विधायक सचिन बिरला  की विधायकी को रद्द करने से इनकार कर दिया। स्पीकर ने बिरला की सदस्यता खत्म करने के आवेदन को निरस्त कर दिया है।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि विधायक सचिन बिरला की सदस्यता को लेकर विधानसभा अध्यक्ष गिरिश गौतम जी ने नियमानुसार निर्णय लिया है।कांग्रेस विधायक रवि जोशी का आवेदन खारिज होने के साथ शेष विषय स्वतः समाप्त हो जाते हैं।

दरअसल, बीते साल खंडवा लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी उपेक्षा का आरोप लगाते हुए खरगोन जिले की बड़वाह विधानसभा सीट से विधायक बिरला कांग्रेस छोडक़र भाजपा में शामिल हो गए थे।हालांकि भाजपा में शामिल होने के बावजूद सचिन बिरला ने विधानसभा से इस्तीफा नहीं दिया और कांग्रेस ने भी सचिन यादव को पार्टी से नहीं निकाला था।

इसके बाद कांग्रेस ने दलबदल कानून के तहत बिरला की विधायकी को रद्द करने की मांग की। चुंकी विधायक या सांसद बनने के बाद खुद अपनी मर्जी से पार्टी छोड़ने या पार्टी व्हिप या पार्टी निर्देश का पालन नहीं करना दल बदल कानून के तहत आता है। कांग्रेस की मांग पर स्पीकर ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए विधानसभा की छानबीन समिति को सौंप दिया था। टीम की जांच रिपोर्ट आने के बाद आगामी चुनावों से पहले विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस की मांग को खारिज कर दिया है।

Related Articles

Back to top button