राज्य निर्वाचन आयोग की जिलों को सख्त हिदायत, हर माह भेजना होगा डिटेल

भोपाल
राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रदेश के सभी 52 कलेक्टरों को पेट्रोल, राशन, लेखन सामग्री, मतपत्र और परिवहन खर्चो के लिए सात करोड़ 48 लाख 44 हजार 300 रुपए का बजट आबंटित किया है। साथ ही ताकीद किया है कि इस बजट से किसी भी हालत में पुराने बिलों का भुगतान नहीं किया जाए।

चुनाव कार्य के दौरान राशन के खर्चो के लिए सर्वाधिक दो करोड़ 16 लाख 94 हजाार रुपए दिए गए है। पेट्रोल तेल के लिए एक करोड़ 62 लाख 70 हजार  पांच सौ रुपए का बजट दिया गया है।लेख सामग्री एवं फार्म की खरीदी के लिए एक करोड़ 8 लाख 47 हजार रुपए दिए गए है। मतपत्रों की छपाई के लिए 43 लाख 38 हजार 800 रुपए दिए गए है। परिवहन के खर्चो के लिए एक करोड़ 8 लाख 47 हजार रुपए का बजट दिया गया है। अन्य खर्चो के लिए एक करोड़ 8 लाख 47 हजार रुपए दिए गए है। इस तरह कुल 7 करोड़ 48 लाख रुपए दिए गए है।

 राज्य निर्वाचन आयोग ने बजट आबंटित करने के साथ ही कोषलय और वित्तीय संहिता के नियम निर्देशों और भंडार क्रय नियमों का पालन करते हुए भुगतान करने को कहा है। इस आबंटन में से कोई राशि अन्य अधिकारी एवं अन्य कार्यालय को पुर्नआवंटित व एकमुश्त अग्रिम आहरण के रुप में नहीं दी जा सकेगी।  अतिरिक्त आबंटन की प्रत्याशा में गैर अनुपातिक खर्च भी नहीं किया जा सकेगा। अनुमति लेने के बाद ही औचित्यपरक कारणों को बताने पर यह अप्रत्याशित व्यय किया जा सकेगा।

सौपे गए बजट का हर माह की पांच तारीख को मासिक व्यय पत्रक  भेजना होगा। पंचायत एवं निकाय हेतु व्यय का मदवार अलग-अलग पंजियों सहित संधारण करना होगा। आवंटित बजट से पूर्व की राशि एवं विवादित लंबित देयताओं का भुगतान नहीं किया जाएगा।

Related Articles

Back to top button