परिश्रम से दुनिया के हर कार्य में सफलता संभव

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि परिश्रम से हर कार्य में सफलता संभव है। व्यक्ति में असीमित क्षमताएँ होती हैं। दुनिया का कोई ऐसा कार्य नहीं जो असंभव हो। विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बेहतर प्रशिक्षण मिल जाए तो वे किसी भी पद के लिए सफल हो सकते हैं। नौकरी न मिलने पर उद्यम के क्षेत्र में और स्व-रोजगार के क्षेत्र में कार्य की अपार संभावनाएँ विद्यमान होती हैं। इन्हें दृढ़ इच्छाशक्ति से पूरा किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री चौहान आज स्वामी दयानंद नगर में संभावना कौशल एवं सामाजिक विकास संस्थान के विद्यार्थियों से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 में चयनित 3 विद्यार्थियों भुवनेश, संदीप पटेल और पूजा चौहान के साथ ही मध्यप्रदेश पुलिस में चयनित अनुशिता साहू, दिल्ली पुलिस में चयनित सुआरजू तांडेकर और भारतीय वायुसेना के लिए चयनित सुसृष्टि गुप्ता से भेंट की। मुख्यमंत्री चौहान ने इन सातों विद्यार्थियों को बधाई दी।

मुख्यमंत्री चौहान ने संभावना संस्था की संरक्षक श्रीमती साधना सिंह चौहान को बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण सुविधा दिलवाने के लिए भी बधाई दी। संस्था द्वारा समाज के सभी समुदायों के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए विभिन्न सेवाभावी शिक्षकों, प्रशिक्षकों द्वारा मार्गदर्शन दिया जाता है। वर्तमान में 115 विद्यार्थी इन कक्षाओं का लाभ रहे हैं। इस प्रशिक्षण की शुरुआत जनवरी 2021 से हुई है। मुख्यमंत्री चौहान ने विद्यार्थियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि अपने प्रयासों को पूरी ऊर्जा से करते हुए दृढ़ संकल्प से सफलता प्राप्त कर सकते हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने सभी विद्यार्थियों को विभिन्न सेवाओं में चयन के लिए शुभकामनाएँ दी। प्रारंभ में सभी विद्यार्थियों ने "हम होंगे कामयाब" प्रेरक गीत का सामूहिक गायन किया। मुख्यमंत्री चौहान और श्रीमती साधना सिंह चौहान भी सामूहिक गायन में शामिल हुए।

 

Related Articles

Back to top button