महाकाल की नगरी उज्जैन होगी हिंदीमय, महाकाल की नगरी में हिंदी में दिखेंगे होटलों और रिसोर्ट के नाम

उज्जैन
सीएम शिवराज सिंह चौहान के आदेश पर कलेक्टर आशीष सिंह ने होटल एवं रिसोर्ट मालिक एसोसिएशन के सदस्यों की बैठक ली. एसोसिएशन ने निर्णय लेते हुए कलेक्टर को आश्वस्त किया कि आगामी एक महीने के अंदर सभी होटल और रिसोर्ट में अंग्रेजी के साथ-साथ हिंदी में भी नाम लिख दिया जाएगा. इसके साथ ही एसोसिएशन ने गौरव दिवस सहित अन्य आयोजनों को लेकर कलेक्टर से बात की.

हिंदी में नाम लिखने पर होटल मालिक सहमत
होटल एवं रिसोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष रवि सोलंकी ने बताया कि, सभी रिसोर्ट एवं होटल मालिक नाम हिंदी में लिखने के लिए सहमत हैं. 2 अप्रैल को उज्जैन में नया वर्ष बनाया गया था, जिसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुंचे थे और उन्होंने रास्ते में आते वक्त देखा कि कई होटलों के नाम इंग्लिश में लिखे हुए हैं. जिसके बाद उन्होंने मंच से संबोधित करते हुए कहा था कि महाकाल की नगरी में हजारों लोग दुनिया भर से आते है, लेकिन होटल के नाम सिर्फ इंग्लिश में लिखें हैं. उन्होंने कलेक्टर को आदेश किया था कि होटलों के नाम हिंदी में होना चाहिए.

लेजर शो एवं म्यूजिकल फाउंटेन करेगा पर्यटकों को आकर्षित
बैठक में कलेक्टर ने स्मार्ट सिटी के पहले और दूसरे चरण में किए जा रहे कार्यों की विस्तार से जानकारी दी. उन्होंने बताया कि यह कार्य पूरा होने के बाद किस तरह से उज्जैन के धार्मिक पर्यटन में बढ़ावा मिलेगा. कलेक्टर ने कहा दूसरे चरण के कार्यों के साथ-साथ लेजर शो एवं म्यूजिकल फाउंटेन भी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनेंगे.

Related Articles

Back to top button