आने वाली पीढ़ी पर्यावरण-संरक्षण के लिए जागरूक और सक्रिय रहे : मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रकृति को सहेज कर रखने के प्रति बच्चों के विचार और उनकी संवेदनशीलता कला- माध्यमों से प्रभावी रूप से अभिव्यक्त हुई है। आगे आने वाली पीढ़ी, पर्यावरण-संरक्षण के लिए जागरूक और सक्रिय रहे, यह समय की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री चौहान विश्व पर्यावरण दिवस पर भोपाल के बोट क्लब पर भोजवेट लेंड परियोजना के अंतर्गत विकसित जल तरंग इंटरप्रटेशन सेंटर में बच्चों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने पर्यावरण-संरक्षण पर केन्द्रित चित्रकला प्रतियोगिता और क्विज के विजेता बच्चों को पुरस्कार वितरित किए। उन्होंने चित्रकला के माध्यम से पर्यावरण की रक्षा का संदेश देने वाले बच्चों को शुभकामनाएँ दी। मुख्यमंत्री चौहान ने इंटरप्रटेशन सेंटर का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर नवीन एवं नवकरणीय, ऊर्जा तथा पयार्वरण मंत्री हरदीप सिंह डंग उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने बच्चों से कहा कि पढ़ाई के साथ-साथ विभिन्न कलाएँ सीखना, परिवेश से संबंधित समझ को बढ़ाना और व्यक्तिगत रूचि की गतिविधियों में अभिवृद्धि,अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए आवश्यक है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता में प्रदेश, देश में पाँचवें नम्बर पर है। हमें अपने प्रदेश को पहले नम्बर पर लाना है। इसके लिए शिक्षकों के साथ-साथ विद्यार्थियों को भी मेहनत करना होगी। मुख्यमंत्री चौहान ने बच्चों को प्रेरित करते हुए कहा कि वे खूब पढ़ें, देश के श्रेष्ठतम संस्थानों में प्रवेश के लिए गंभीरता से प्रयास करें। चयनित संस्थाओं में चयन होने पर अध्ययन का खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि तालाबों और वेटलेंड के संरक्षण के प्रति जन-सामान्य में संवेदनशीलता और जागरूकता उत्पन्न करने के उद्देश्य से बड़े तालाब के किनारे, बोट क्लब के समीप जलतरंग इंटरप्रटेशन सेंटर वर्ष 2004 में बनाया गया था। इसमें तालाबों और वेटलेंड से संबंधित जानकारी मॉडल, प्रादर्शों, उपकरणों के माध्यम से प्रदर्शित की गई है। सेंटर में भोजवेट लेंड में पाई जाने वाली वनस्पति, जीव-जन्तु और पक्षियों तथा पानी के उपयोग से संबंधित सम्पूर्ण विवरण आकर्षक रूप में प्रदर्शित किया गया है। सेंटर में प्रदेश के नदी तंत्र तथा विश्व के विभिन्न महाद्वीपों के परिवेश, मौसम, पारिस्थितिकी तंत्र के संबंध में जानकारी दी गई है। सेंटर में खेल के माध्यम से बच्चों की जानकारियों में अभिवृद्धि के लिए भी गतिविधियाँ संचालित की जाती हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने चित्रकला प्रतियोगिता में विजेता इशिका सिंह, प्रियल जैन और शीतल गुप्ता एवं क्विज की विजेता अतीफा नाज़, प्रज्ञा कंसोटिया और शिखा यादव को पुरस्कार प्रदान किए। मुख्यमंत्री चौहान द्वारा पर्यावरण-संरक्षण पर केंद्रित प्रकाशन-सामग्री भी बच्चों को भेंट की गई।

Related Articles

Back to top button