अल्ट्राट्रेक सीमेंट प्लांट प्रबंधक के ठेकेदारों ने छीना युवाओं से रोजगार का हक

मैहर
इन दिनों मैहर में अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट काफी चर्चा का विषय बना हुआ है बताया जा रहा है कि अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट में चौथी यूनिट का कार्य चालू हो चुका है और अन्य प्रदेश के ठेकेदार यहां कार्य करने आ रहे हैं, इस विषय को लेकर जब हमने क्षेत्रीय युवा समाज सेवी प्रशांत शुक्ला से बातचीत की तो उन्होंने कहा अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट में हजारों लोगो को रोजगार मिला है उसके लिए क्षेत्रीय लोग हमेशा इस प्लांट के ऋणी है, जनसंख्या की दर दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है कई हजार परिवार आज भी बेरोजगारी के दौर से गुजर रहे हैं अन्य प्रदेश के ठेकेदारों द्वारा यहां कार्य किया जा रहा है और यहां के लोकल युवा श्रमिक का कार्य भी यहां संचालित अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट में नहीं पा रहे,बाहरी लोगो को यहां प्राथमिकता दी जा रही है अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट में कार्य करने वाले ठेकेदारों की वजह से प्लांट अब विवादो में घिरता जा रहा है,प्रशांत शुक्ला ने लोकल ठेकेदारों को चेताया जो ठेकेदार सोनवारी डेल्हा सरलानगर भदनपुर पिपराहट पिपरा के युवाओं के विपरीत जाकर बाहरी ठेकेदारों के साथ लोकल युवाओं का बहिष्कार करवा रहे है जिससे लोग अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट से अक्रोशित हो रहे हैं जबकि लोगों के आक्रोश का कारण अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट में कार्य करने वाले बाहरी और कुछ लोकल ठेकेदार हैं जिन्हें अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट अपना माई बाप मान चुका है, इन लोकल और बाहरी ठेकेदारों पर अगर अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट प्रबंधक सरलानगर ने जल्द नकेल न कसी तो सैकड़ो युवाओं के साथ प्लांट प्रबंधक को ठेकेदारों के विरुद्ध ज्ञापन सौप उद्योग को विवादित बनाने वाले लोकल बाहरी ठेकेदारों के विरुद्ध निर्णय लेने की मांग प्लांट प्रबधंक से करेंगे !

Related Articles

Back to top button