मंत्रि-परिषद ने उत्तराखंड दुर्घटना में मृत व्यक्तियों को मौन रख कर दी श्रद्धांजलि

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंत्रालय में मंत्रि-परिषद की बैठक वंदे-मातरम के गान के साथ आरंभ हुई। मुख्यमंत्री चौहान तथा मंत्रि-परिषद के सदस्यों ने एक मिनट का मौन रख कर उत्तराखंड सड़क दुर्घटना में पन्ना जिले के मृत तीर्थ-यात्रियों को श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री चौहान ने बैठक से पहले उत्तराखंड की सड़क दुर्घटना के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के अधिकारियों की टीम सहित तत्काल घटनास्थल पर पहुँचने और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री धामी, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा जिला प्रशासन की सक्रियता और तत्परता का ही परिणाम रहा कि दुर्घटनाग्रस्त बस के तीन यात्रियों को हम बचा पाए।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार पूरे प्रदेश को परिवार मानती है। परिवार के कुछ सदस्य, संकट में हों, तो हम चैन से कैसे बैठ सकते हैं। इस बेचैनी के कारण ही उन्होंने राहत और बचाओ कार्यों में सहभागी होने और उसकी निगरानी के लिए तत्काल उत्तराखंड जाने का निर्णय लिया।

मुख्यमंत्री चौहान ने मंत्रीगण से चर्चा में प्रदेश में हो रही सड़क दुर्घटनाओं पर चिंता व्यक्त की। मुख्यमंत्री चौहान ने हाल ही में पन्ना, बैतूल, खंडवा और रीवा में हुई सड़क दुर्घटनाओं के कारणों का विश्लेषण करने की आवश्यकता बताई।

मुख्यमंत्री चौहान ने सड़क सुरक्षा पर तीन सदस्यीय समिति गठित करने के निर्देश दिए। समिति में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और सहकारिता तथा लोक सेवा प्रबंधन मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया सदस्य होंगे। यह समिति सड़क सुरक्षा के लिए संचालित गतिविधियों और अपनाई जाने वाली आवश्यक सावधानियों की समीक्षा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

 

Related Articles

Back to top button