मृत गर्भवती महिला का इलाज करते रहे डॉक्टर, परिवार का आरोप – नर्स मोबाइल पर खेल रही थी गेम

 खंडवा
 मध्य प्रदेश के खंडवा में महिला चिकित्सालय के अंदर एक गर्भवती महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि गर्भवती महिला को लेबर पेन होने पर अस्पताल में एडमिट किया गया था।जब उसे तेज़ लेबर पेन होने लगा तो उनके बुलाने पर डॉक्टर ओर नर्स कोई भी मरीज को देखने नहीं आया।उल्टा नर्स मोबाइल पर गेम खेलती रही। इसी बीच महिला की मौत हो गई। महिला की मौत होने के बाद ड्यूटी पर मौजूद नर्स और डॉक्टर एक घंटे तक मृत महिला का इलाज कर परिवार वालों को झूठी सांत्वना देते रहे। परिजनों ने महिला की मौत के बाद हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने आकर पूरे मामले को शांत कराया है।

खंडवा के महिला चिकित्सालय लेडी बटलर में गर्भवती और नवजात शिशुओं का इलाज किया जाता है। महिला अस्पताल लेडी बटलर में गर्भवती महिला फरहीन की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। महिला की मौत को लेकर परिजन आक्रोशित हो गए और हंगामा करने लगे। परिवार के लोगों ने खुले रूप से डॉक्टर और स्टाफ नर्सो पर लापरवाही का आरोप लगाया है। परिवार का कहना है कि महिला डॉक्टर और स्टाफ नर्स सो रही थीं। गर्भवती महिला फरहीन की हालत खराब होने पर जब भी उन्हें बोलने जाते तो वह उन्हें डांट कर भगा दे रहे थे। स्टाफ नर्स मोबाइल में गेम खेलने में लगी हुई थी।

 
मृत महिला की सास फरीद ने बताया कि गर्भवती महिला को मंगलवार की दोपहर में महिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। डॉक्टर ने चेक कर कहा था कि नॉर्मल डिलीवरी हो जाएगी। लेकिन रात में जब फरहीन को लेबर पेन होने लगा तो वह बार-बार डॉक्टर और नर्स को बुलाते रहे। लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। उल्टा स्टाफ नर्स मोबाइल में गेम खेलती रही।

 परिजनों का कहना है, 'जब फरहीन की मौत हो गई तब वो एक घंटे तक जबरन नौटंकी करते रहे। हमसे कहा कि उसकी सांस अभी चल रही है और बहुत से कागजों पर हस्ताक्षर लेते रहे। जबकि फरहीन की मौत पहले ही हो चुकी थी। फरहीन के परिजनों ने आरोप लगाया कि उनकी बहू की मौत डॉक्टर और नर्सों की लापरवाही के चलते हुई है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

 

Related Articles

Back to top button